--Advertisement--

बैलेंस डाइट क्या है? इसके लिए खानपान में किन चीजों को शामिल करना चाहिए?

शरीर को ऊर्जावान बनाए रखने के लिए प्रोटीन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। इसके लिए दिन की शुरुआत अंकुरित अनाज से करें।

Danik Bhaskar | Jul 05, 2018, 12:59 PM IST

हेल्थ डेस्क. अक्सर डायटीशियन और फिजिशियन बैलेंस डाइट लेने की सलाह देते हैं लेकिन ज्यादातर लोग इसे मायने पूरी तरह नहीं जानते। डाइट से जुड़े ऐसे ही कई सवालों के जवाब दे रही हैं डायटीशियन शीला सेहरावत।

सवाल- बैलेंस डाइट क्या है? इसके लिए डाइट में कौन सी चीजें शामिल करनी चाहिए?
- पारुल शाह, भाेपाल

जवाब- बैलेंस डाइट यानी ऐसा भोजन जिसमें विटामिंन, प्रोटीन, कार्ब, फायबर संतुलित मात्रा में हों। ऐसा भोजन जिसमें सेचुरेटेड फैट, ट्रांस फैट और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक होती है, शरीर में कोलेस्ट्रोल बढ़ाते हैं और स्वस्थ आहार की श्रेणी में नहीं आते। यदि आप अपनी हड्डियों को स्वस्थ व मजबूत रखना चाहते हैं तो एल्कोहल से परहेज करें। शरीर को आवश्यक कैल्शियम की मात्रा नहीं मिलती तो वह हड्डियों से कैल्शियम लेना शुरू कर देता है। इसी वजह से हड्डियां पतली हो जाती हैं। दूध, हरी सब्जियां, ताजे फल और अनाज को अपनी नियमित दिनचर्या में जरूर शामिल करें और फास्ट फूड से दूरी बनाएं। इसे पोषक तत्व संतुलित मात्रा में शरीर में पहुंचेंगे।

सवाल- भोजन में किन चीजों को शामिल करने से शरीर को पोषण मिल पाता है? -माधवी साहू, ग्वालियर
जवाब- ताजा फलों और सब्जियों के पकते ही तुरंत खाने से शरीर को पर्याप्त पोषक तत्व मिलते हैं। एक बार रसोईघर में आने के बाद हम भोजन को अधिक पकाते, तलते हैं यहां तक कि बचे हुए भोजन को बार-बार गरम करते हैं। इस प्रकार भोजन के महत्वपूर्ण पोषक तत्व पूरी तरह से नष्ट हो जाते हैं। भोजन के प्राकृतिक स्रोत हमारे शरीर की पोषण की मांगों को पूरा करने का सबसे अच्छा तरीका हैं, लेकिन यदि उन्हें सही फार्म और सही मात्रा में खाया जाए। इसलिए, विटामिन, खनिज, और एंटी-ऑक्सीडेंट्स जैसे विटामिन ए, सी, ई, सेलेनियम आदि को अपने भोजन में जरूर शामिल करें, इससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी।

सवाल- मैं व्यायाम नहीं कर पाता, कौन सा आहार लूं कि शरीर में ऊर्जा का स्तर बना रहे ? - कुणाल मिश्रा, इंदौर
जवाब- शरीर को ऊर्जावान बनाए रखने के लिए प्रोटीन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। इसके लिए दिन की शुरुआत अंकुरित अनाज से करें। अंकुरित दालों में बेहतर क्षारीय तत्व हैं जो तनाव को दूर करते हैं और अम्लों के विकारों से शरीर की रक्षा करते हैं। अंकुरित अनाज में प्राेटीन के साथ ही कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और खनिज भी होते हैं जो पाचन के लिए बेहद आावश्यक है। इसके साथ ही सब्जियों का पानी पीना भी फायदेमंद होता है। इस रस में रेशे नहीं होते हैं, लेकिन एंजाइम अच्छी मात्रा में होते हैं। ये दाेनों ही तत्व शरीर में ऊर्जा का स्तर बनाए रखते हैं। इसके साथ ही दिन में 8 से 12 गिलास पानी जरूर पीएं, इससे शरीर में पानी की मात्रा बनी रहती है और डिइाइड्रेशन की समस्या नहीं होती।