--Advertisement--

लक्ष्मी की ऐसी मूर्ति लाती है घर में धन, अगर आपके यहां नहीं हैं तो शुक्रवार को लाएं

अक्सर लोग ये नहीं जानते कि लक्ष्मी की कौन सी प्रतिमा उनके लिए शुभ है।

Danik Bhaskar | Jul 12, 2018, 06:39 PM IST

रिलिजन डेस्क. लक्ष्मी धन और सुख की देवी हैं। हर कोई चाहता है कि उसके घर में लक्ष्मी का वास हो। सभी किसी ना किसी रुप में लक्ष्मी को अपने घर के मंदिर में स्थापित करते हैं। तस्वीर हो या मूर्ति, लक्ष्मी का रुप हर घर में मौजूद होता है। अक्सर लोग ये नहीं जानते कि लक्ष्मी की कौन सी प्रतिमा उनके लिए शुभ है। लक्ष्मी की ऐसी मूर्ति आपके यहां सुख-समृद्धि ला सकती है। अगर आपके यहां नहीं है तो आप किसी भी शुक्रवार को अपने घर में ऐसी मूर्ति की स्थापना कर सकते हैं।

शास्त्रों के अनुसार धन संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए महालक्ष्मी की प्रसन्नता जरूरी है। जिन भक्तों पर महालक्ष्मी की कृपा रहती है उन्हें जीवन में कभी भी धन संबंधी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता। महादेवी को प्रसन्न करने के लिए प्रतिदिन इनका विधिवत पूजा किया जाना चाहिए। इसके साथ ही जिन घरों में महालक्ष्मी की सोने या चांदी से बनी मूर्ति रहती हैं वहां भी गरीबी का वास नहीं होता है।

पैसों से जुड़ी परेशानियों को दूर करने के लिए महालक्ष्मी के साथ भगवान विष्णु का पूजन करना श्रेष्ठ उपाय है। देवी लक्ष्मी को भगवान विष्णु की पत्नी हैं और इसी वजह से उनकी पूजा करने भक्तों पर भी धन की देवी की विशेष कृपा रहती है। घर से गरीबी भगाने और घर में धन बढ़ाने के लिए बताया गया है कि व्यक्ति को घर के मंदिर में महालक्ष्मी की सोने या चांदी से निर्मित मूर्ति रखना चाहिए।

क्यों महत्वपूर्ण है सोने या चांदी की मूर्ति

जिस घर में सोने या चांदी से निर्मित महालक्ष्मी की मूर्ति होती है वहां देवी लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है। साथ ही भक्त को प्रतिदिन विधि-विधान से उस चांदी या सोने की मूर्ति का पूजन करना चाहिए। सोना सुख-समृद्धि का प्रतीक है और चांदी महालक्ष्मी की प्रिय धातु मानी गई है। अत: इनसे निर्मित मूर्ति की पूजा करने वाला श्रद्धालु कभी भी दरिद्रता का सामना नहीं करता है।

अगर सोने चांदी की मूर्ति नहीं ला सकते हैं तो इस धातु की मूर्ति लाएं

अगर आप सोने या चांदी की मूर्ति नहीं ला सकते हैं तो पीतल की मूर्ति भी घर में स्थापित कर सकते हैं। मूर्तियों के लिए ये धातु भी काफी शुभ मानी गई है। अक्सर मंदिरों में पीतल की प्रतिमाएं होती हैं। आप इन मूर्तियों की सेवा करके भी घर में सुख-शांति ला सकते हैं।

ऐसी होनी चाहिए लक्ष्मी की मूर्ति

- माता लक्ष्मी की मूर्ति कमल के फूल पर विराजित होनी चाहिए।

- मूर्ति के हाथ में धन का कलश, कमल का फूल, शंख और एक हाथ आशीर्वाद की मुद्रा में हो।

- मूर्ति हाथ के अंगूठे से बड़ी ना हो।

- मूर्ति के साथ अगर गणपति की मूर्ति हो तो और बेहतर है।

- घर के मंदिर में श्रीयंत्र की स्थापना भी करें।