--Advertisement--

अमेरिका: ट्रम्प के खिलाफ लेख लिखने का शक उपराष्ट्रपति पेंस पर, लोग लगा रहे सट्टा

शिक्षा मंत्री और विदेश मंत्री सट्‌टेबाजों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर

Danik Bhaskar | Sep 07, 2018, 04:02 PM IST

- एनवाईटी में बुधवार को प्रकाशित हुआ था बिना नाम का आर्टिकल
- इस लेख को व्हाइट हाउस ने अफसर की कायराना हरकत करार दिया था

वॉशिंगटन. अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स (एनवाईटी) में ट्रम्प के खिलाफ बुधवार को आर्टिकल लिखने वाले वरिष्ठ अधिकारी की पहचान को लेकर सवाल उठ रहे हैं। वहीं, सट्‌टेबाजों ने अधिकारी के नाम को लेकर दांव लगाना शुरू कर दिया है। इसमें उपराष्ट्रपति माइक पेंस पर सबसे ज्यादा शक जताया जा रहा है। हालांकि, इस लिस्ट में विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का नाम भी शामिल है।
अमेरिका की गैम्बलिंग वेबसाइट माईबुकी के जीएम जैक स्लेटर ने कयास लगाया है कि देश की राजनीति में जल्द ही बड़ा बदलाव नजर आ सकता है, जिसके लिए सट्‌टेबाज बिल्कुल तैयार हैं। उनकी वेबसाइट ने लेख लिखने वाले की पहचान के लिए 100 डॉलर (करीब 7200 रुपए) की शर्त रखी है। जीतने वाले को दोगुनी रकम दी जाएगी। अब तक 5 हजार डॉलर (3.60 लाख रुपए) की शर्त लगाई जा चुकी है। सबसे ज्यादा दांव उपराष्ट्रपति माइक पेंस पर लगाया गया है। जैक के मुताबिक, शिक्षा मंत्री बेट्से डेवॉस और विदेश मंत्री माइक पोम्पियो दूसरे नंबर पर बने हुए हैं। सेनाध्यक्ष जॉन केली और वित्त सचिव स्टीवन मनुचिन को सट्‌टेबाजों ने तीसरे नंबर पर रखा है।

यह है मामला : एक अमेरिकी अफसर ने बुधवार को न्यूयॉर्क टाइम्स में 'आई एम पार्ट ऑफ रेजिस्टेंस इनसाइड द ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन' शीर्षक से लेख लिखा था। इसमें अफसर के नाम का खुलासा नहीं किया गया था। इस लेख को व्हाइट हाउस ने कायराना हरकत कहा है।

'सारे आरोप गलत' : लेख पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्रम्प ने कहा था, "जिस अनाम अफसर ने आर्टिकल लिखा, उसने सब गलत कारण गिनाए। न्यूयॉर्क टाइम्स नाकाम हो रहा है। अगर मैं यहां नहीं रहूंगा तो एनवाईटी भी नहीं रहेगा। मैं फेल हो रहे न्यूयॉर्क टाइम्स से कहना चाहता हूं कि जिसके बारे में अखबार लिख रहा है वह प्रशासन में प्रतिरोध का हिस्सा है। हमें इसी से निपटना है।''