--Advertisement--

महिला हॉकी विश्व कपः आयरलैंड के खिलाफ मैच आज शाम 6:30 बजे से, भारत की पहली जीत पर नजर

Dainik Bhaskar

Jul 26, 2018, 04:22 AM IST

पिछले मैच भारत ने भले ही मेजबान इंग्लैंड से ड्रॉ खेला हो, लेकिन कप्तान रानी रामपाल टीम के प्रदर्शन से बेहद खुश

महिला हॉकी वर्ल्ड कप में पूल ब महिला हॉकी वर्ल्ड कप में पूल ब

  • पूल बी के पहले मैच में इंग्लैंड के खिलाफ भारत ने 25वें मिनट में ही एक गोल कर दिया था
  • विश्व रैंकिंग में 16 नंबर पर काबिज आयरलैंड ने वर्ल्ड नंबर 7 अमेरिका को 3-1 से हराया था


लंदन. महिला हॉकी विश्व कप के पूल बी में गुरुवार शाम 6:30 बजे भारत और आयरलैंड के बीच मुकाबला होगा। भारत ने 21 जुलाई को टूर्नामेंट में अपने पहले मुकाबले में ओलिंपिक चैम्पियन इंग्लैंड से 1-1 से ड्रॉ खेला था। इस मैच में आखिरी वक्त में भारतीय टीम के हाथों से जीत निकल गई थी। इंग्लैंड ने 54वें मिनट में गोल कर स्कोर 1-1 से बराबर कर लिया था। ऐसे में अब उसकी नजर आयरलैंड को हराकर जीत का खाता खोलने की होगी। विश्व रैंकिंग में 10वें स्थान पर काबिज भारतीय टीम को आयरलैंड के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करना होगा। इस मैच में हार या मुकाबला ड्रॉ होने से उसके लिए विश्व कप में खिताब जीतना मुश्किल हो जाएगा।

इसलिए है जीत जरूरीः भारतीय टीम अगर आयरलैंड के खिलाफ मैच ड्रॉ खेलती है या हार जाती है, तो अपनी टूर्नामेंट में उम्मीदों को बरकरार रखने के लिए उसे किसी भी हालत में पूल-बी के तीसरे मुकाबले में अमेरिका के खिलाफ अच्छे स्कोर से जीत हासिल करनी होगी। यही नहीं, उसे इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच मैच में अपने अनुकूल नतीजे की उम्मीद करनी होगी।

कप्तान रानी को अच्छे प्रदर्शन की उम्मीदः मैच से पहले भारतीय टीम की कप्तान रानी रामपाल ने कहा, "इंग्लैंड के खिलाफ मैच अच्छा था। उस मैच से हमने टूर्नामेंट में अच्छी शुरुआत की। मैच के बाद खिलाड़ियों और टीम स्टॉफ ने बैठक की, जिसमें हमारे प्रदर्शन के बारे में चर्चा हुई। हमने अमेरिका के खिलाफ आयरलैंड के मैच का वीडियो भी देखा। तीन दिन के आराम के दौरान हमने आपस में कई अभ्यास मैच खेले हैं और अपनी लय को बनाए रखा है।" रानी ने कहा, "वर्ल्ड नंबर-7 अमेरिका को 3-1 से हराकर उलटफेर करने वाली वर्ल्ड नंबर-16 आयरलैंड के खिलाफ हमें अच्छी शुरुआत करनी होगी और उस टीम पर दबाव बनाए रखना होगा। हम आश्वस्त हैं और अपनी अगली चुनौती के लिए भी पूरी तरह से तैयार हैं।"

वर्ल्ड कप में भारत का सक्सेस रेट 33%: वर्ल्ड कप में भारत ने अब तक 9 मैच जीते और 27 हारे हैं, जबकि 4 मुकाबले ड्रॉ कराने में सफल रहा। इस दौरान भारत ने 49 गोल किए और 88 खाए। वर्ल्ड कप में भारत का सबसे अच्छा प्रदर्शन 1974 में रहा था। तब उसने चौथा स्थान हासिल किया था। उसके बाद से उसका प्रदर्शन निराशाजनक ही रहा है। वर्ल्ड कप का यह 14वां संस्करण है। पिछले 13 में से 7 में नीदरलैंड चैम्पियन रहा, जबकि अर्जेंटीना, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया 2-2 बार विश्व कप की ट्रॉफी जीतने में सफल रहे।

टीमः गोलकीपरः सविता (उप-कप्तान), रजनी एतिमारपू। डिफेंडर: दीपा ग्रेस इक्का, सुनीता लाकड़ा, दीपिका, गुरजीत कौर, रीना खोखर। मिडफील्डर: नमिता टोप्पो, लिलिमा मिंज, मोनिका, उदिता, निक्की प्रधान, नेहा गोयल। फॉरवर्ड: रानी रामपाल (कप्तान), वंदना कटारिया, लालरेमसियामी, नवनीत कौर, नवजोत कौर।

X
महिला हॉकी वर्ल्ड कप में पूल बमहिला हॉकी वर्ल्ड कप में पूल ब
Astrology

Recommended

Click to listen..