--Advertisement--

मेजबान रूस विश्व कप से बाहर, पेनल्टी शूट आउट में क्रोएशिया 4-3 से जीता; 20 साल बाद सेमीफाइनल में पहुंचा

क्रोएशिया का मुकाबला सेमीफाइनल में 11 जुलाई को लुझनिकी स्टेडियम में इंग्लैंड से होगा।

Dainik Bhaskar

Jul 08, 2018, 03:26 AM IST
क्रोएशिया के गोलकीपर ने इस मैच में पेनल्टी शूट आउट के दौरान दो शॉट रोके। क्रोएशिया के गोलकीपर ने इस मैच में पेनल्टी शूट आउट के दौरान दो शॉट रोके।

  • रूस के चेरीशेव के 4 अंतरराष्ट्रीय गोल हैं, उन्होंने चारों गोल इसी विश्व कप में किए
  • इस विश्व कप में पहली बार एक्स्ट्रा टाइम में किसी टीम ने गोल किया
  • विदा ने गोल करने के बाद टी-शर्ट उतारकर खुशी मनाई, जिस पर उन्हें यलो कार्ड मिला

सोच्ची (रूस). विश्व कप के चौथे और आखिरी क्वार्टर फाइनल मुकाबले में क्रोएशिया ने पेनल्टी शूट आउट में मेजबान रूस को 4-3 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही क्रोएशिया ने 1998 के बाद पहली बार आखिरी 4 में जगह बनाई। मैच में निर्धारित समय तक दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर रहीं। एक्स्ट्रा टाइम में दोनों टीमों ने 1-1 गोल और किया और लेकिन स्कोर तब भी 2-2 की बराबरी पर ही रहा। उसके बाद मैच का निर्णय पेनल्टी शूट आउट से हुआ। क्रोएशिया के लिए क्रेमेरिच ने 39वें और डोमागोज विदा ने 101वें मिनट में गोल किया। वहीं, रूस के लिए डेनिस चेरीशेव ने 31वें और मारियो फर्नांडेस ने 115वें मिनट में गोल किया।

क्रोएशिया ने की अर्जेंटीना की बराबरी: क्रोएशिया एक ही विश्व कप में दो बार पेनल्टी शूट आउट जीतने वाली दूसरी टीम बनी। इससे पहले अर्जेंटीना ने 1990 में पेनल्टी शूट आउट में यूगोस्लाविया और इटली को हराया था। क्रोएशिया के गोलकीपर सुबासिच लगातार दो मैच में हुए पेनल्टी शूट आउट में कुल 4 शॉट रोकने वाले तीसरे गोलकीपर बने। इससे पहले अर्जेंटीना के सर्जियो गोयकोचेया और पश्चिमी जर्मनी के हेराल्ड शूमाकर ने 4 शॉट रोके थे।

पेनल्टी शूट आउट में रूस के 2 और क्रोएशिया के एक खिलाड़ी नाकाम

पेनल्टी संख्या रूस क्रोएशिया
1 स्मोलोव-नाकाम ब्रोजोविच-सफल
2 जगोएव-सफल कोवाचिच-नाकाम
3 फर्नांडेस-नाकाम मोड्रिच-सफल
4 इग्नाशेविच-सफल विदा-सफल
5 कुजीएव-सफल

रकीटिच-सफल

पहली बार किसी मेजबान देश से जीता क्रोएशिया: क्रोएशिया तीसरी बार किसी विश्व कप में मेजबान देश से खेला। जिसमें उसे पहली बार जीत हासिल हुई। इससे पहले उसे मेजबान फ्रांस ने 1998 में 2-1 से और 2014 में ब्राजील ने 3-1 से हरा दिया था। 1990 के बाद से पहली बार कोई मेजबान देश क्वार्टर फाइनल में पहुंचकर हारा। इससे पहले 7 विश्वकप में से 5 बार (1990 इटली, 1998 फ्रांस, 2002 दक्षिण कोरिया, 2006 जर्मनी, 2014 ब्राजील) मेजबान देश क्वार्टर फाइनल में पहुंचे और हर बार सेमीफाइनल में पहुंचे। सिर्फ 1994 में अमेरिका और 2010 में दक्षिण अफ्रीका ही क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच पाया था।

रूस ने मैच में पहला रिप्लेसमेंट किया: रूस ने 54वें मिनट में पहला रिप्लेसमेंट करते हुए समेदोव की जगह एरोखिन को मैदान पर उतारा। उसके बाद रूस ने 67वें मिनट में इस मैच के गोल स्कोरर चेरीशेव की जगह स्मोलोव, 79वें मिनट में डिज्यूबा की जगह यूरी गजिंस्की और 101वें मिनट में गोलोविन की जगह जगोएव को मैदान पर भेजा। वहीं क्रोएशिया ने 63वें मिनट में पेरिसिच की जगह ब्रोजोविच, 74वें मिनट में स्ट्रीनिच की जगह पिवारिच और 88वें मिनट में क्रेमेरिच की जगह कोवाचिच को मैदान पर उतारा। क्रोएशिया ने 97वें मिनट में वर्साल्को की जगह कोरलुका को मैदान पर भेजा।

क्रोएशिया ने रूस के मुकाबले 361 पास ज्यादा किए

टीम गोल का प्रयास कॉर्नर बॉल पजेशन पास पास एक्यूरेसी यलो कार्ड
रूस 13 6 36% 402 69% 1
क्रोएशिया 17 8 64% 763

81%

4

अपनी टीम का मैच देखने सोच्ची पहुंचीं क्रोएशिया की राष्ट्रपति: क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा ग्रैबर-किटारोविक रूस के खिलाफ अपनी टीम का क्वार्टर फाइनल मुकाबला देखने के लिए सोच्ची पहुंचीं। मैच से पहले उन्होंने सोच्ची स्पोर्ट्स ग्लोरी म्यूजियम का दौरा किया। उन्होंने रूस के प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव के साथ बैठक की। बैठक के दौरान व्यापार, संस्कृति और मानवतावादी क्षेत्र में रूसी-क्रोएशियाई सहयोग के मुख्य मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई।


टीमें:
रूस (शुरुआती एकादश): अकिनफीव (गोलकीपर), फर्नांडेस, कुतेपोव, सर्जेई इग्नाशेविच, डेनिस चेरीशेव, कुजीएव, जोबनिन, कुद्रिशोव. गोलोविन, समेदोव, डिज्यूबा।
क्रोएशिया (शुरुआती एकादश): सुबासिच (गोलकीपर), वर्साल्को, स्ट्रीनिच, पेरिसिच, लोवरेन, इवान रकिटिच, क्रेमेरिच, लुका मोड्रिच, मंजुकीच, रेबिच, विदा।

क्रोएशिया के खिलाफ मैच हारने के बाद मायूस रूस के खिलाड़ी। क्रोएशिया के खिलाफ मैच हारने के बाद मायूस रूस के खिलाड़ी।
रूस के खिलाफ मैच में अपनी टीम की हौसलाअफजाई करतीं क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा ग्राबर-किटारोविक। मैच के दौरान उन्होंने अपने देश की फुटबॉल टीम जैसे ड्रेस पहन रखी थी। रूस के खिलाफ मैच में अपनी टीम की हौसलाअफजाई करतीं क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा ग्राबर-किटारोविक। मैच के दौरान उन्होंने अपने देश की फुटबॉल टीम जैसे ड्रेस पहन रखी थी।
रूस के मैच हारने के बाद अपनी सीट के आस-पास फैले कचरे को चुनता टीम का समर्थक। रूस के मैच हारने के बाद अपनी सीट के आस-पास फैले कचरे को चुनता टीम का समर्थक।
गोल करने के बाद टी-शर्ट उतारकर खुशी मनाते क्रोएशिया के विदा। गोल करने के बाद टी-शर्ट उतारकर खुशी मनाते क्रोएशिया के विदा।
क्रोएशिया के खिलाफ मैच में पहला गोल रूस के डेनिस चेरीशेव ने किया। क्रोएशिया के खिलाफ मैच में पहला गोल रूस के डेनिस चेरीशेव ने किया।
X
क्रोएशिया के गोलकीपर ने इस मैच में पेनल्टी शूट आउट के दौरान दो शॉट रोके।क्रोएशिया के गोलकीपर ने इस मैच में पेनल्टी शूट आउट के दौरान दो शॉट रोके।
क्रोएशिया के खिलाफ मैच हारने के बाद मायूस रूस के खिलाड़ी।क्रोएशिया के खिलाफ मैच हारने के बाद मायूस रूस के खिलाड़ी।
रूस के खिलाफ मैच में अपनी टीम की हौसलाअफजाई करतीं क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा ग्राबर-किटारोविक। मैच के दौरान उन्होंने अपने देश की फुटबॉल टीम जैसे ड्रेस पहन रखी थी।रूस के खिलाफ मैच में अपनी टीम की हौसलाअफजाई करतीं क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा ग्राबर-किटारोविक। मैच के दौरान उन्होंने अपने देश की फुटबॉल टीम जैसे ड्रेस पहन रखी थी।
रूस के मैच हारने के बाद अपनी सीट के आस-पास फैले कचरे को चुनता टीम का समर्थक।रूस के मैच हारने के बाद अपनी सीट के आस-पास फैले कचरे को चुनता टीम का समर्थक।
गोल करने के बाद टी-शर्ट उतारकर खुशी मनाते क्रोएशिया के विदा।गोल करने के बाद टी-शर्ट उतारकर खुशी मनाते क्रोएशिया के विदा।
क्रोएशिया के खिलाफ मैच में पहला गोल रूस के डेनिस चेरीशेव ने किया।क्रोएशिया के खिलाफ मैच में पहला गोल रूस के डेनिस चेरीशेव ने किया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..