--Advertisement--

वैज्ञानिकों ने बनाया दुनिया का सबसे छोटा रोबोट, शरीर में घुसकर करेगा कैंसर-अल्जाइमर का इलाज

इस रोबोट का आकार 120 नैनोमीटर, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी हुआ दर्ज

Danik Bhaskar | Aug 28, 2018, 09:00 PM IST

- यह रोबोट खराब सेल्स की पहचान करके उन्हें ठीक भी करेगा
- सबसे पहले 2016 में मेडिकल रोबोट का प्रदर्शन किया गया था


हॉस्टन. टेक्सास के वैज्ञानिकों ने दुनिया का सबसे छोटा मेडिकल रोबोट तैयार किया है। यह 120 नैनोमीटर का है। यानी यह इंसान के बाल से भी करीब एक लाख गुना पतला है। इसे सबसे छोटे रोबोट के रूप में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में जगह दी गई है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस रोबोट से भविष्य में कैंसर और अल्जाइमर के मरीजों का इलाज करने में आसानी होगी।

अमेरिका की टेक्सास यूनिवर्सिटी में सैन एंटोनियो (यूटीएसए) के वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च के दौरान नैनोरोबोट की सीरीज तैयार की। इसे अमेरिका के मेडिकल इतिहास का बड़ा दिन माना जा रहा है। यूटीएसए के प्रोफेसर रुयान गुओ ने बताया कि हमने ऐसे नैनोकम्पोजिट पार्टिकल तैयार किए हैं, जिन्हें रिमोट कंट्रोल से इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फील्ड में चलाया जा सकेगा। ये नैनोकम्पोजिट पार्टिकल बायोलॉजिकल सेल्स के साथ छोटे रोबोट की तरह काम करेंगे।

ब्राजील ने की मदद : नैनोरोबोट के हिस्से ब्राजील की मदद से तैयार किए गए हैं। गुओ ने बताया कि नैनोरोबोट बनने के बाद मेडिकल क्षेत्र में क्रांति आने की उम्मीद है। इनकी मदद से कीमोथैरेपी के दौरान कैंसर की सेल्स को आसानी से पहचाना जा सकेगा। वहीं, अल्जाइमर के मरीज को भी स्पेशल ट्रीटमेंट दिया जा सकेगा। मेडिकल रोबोट का प्रयोगात्मक प्रदर्शन यूटीएसए ने 2016 में किया था।