गुड़गांव में खुले में नमाज का विरोध: अग्नि समाधि लेने चंडीगढ़ पहुंचे यति नरसिंहनंद सरस्वती गिरफ्तार

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़/पानीपत.  गुड़गांव में खुले में नमाज के विरोध में मुख्यमंत्री आवास के सामने अग्नि समाधि लेने पहुंचे अखिल भारतीय संत परिषद के संयोजक यति नरसिंहनंद सरस्वती महाराज को चंडीगढ़ पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया है। महाराज ने इसकी पहले ही घोषणा की थी। चंडीगढ़ पुलिस को उनके चंडीगढ़ आने की भनक लगी तो पुलिस ने मुख्यमंत्री आवास से पहले ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया। 

 

 

 

 

अपने साथ लकड़ियां भी लेकर आए थे 

- महाराज समेत नौ लोग गाड़ियों में आए थे। अपने साथ लकड़ी आदि भी लाए थे। उन्हें चंडीगढ़ के सेक्टर-3 पुलिस थाने ले जाया गया। उनके व उनके साथ आए लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। सभी को सोमवार को एसडीएम की कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

 

खुले में नमाज अदा करने पर हुआ था विवाद

 

- प्राचीन देवी मंदिर डाशना गाजियाबाद के यति नरसिंहनंद सरस्वती महाराज के साथ वहीं से अरुण सक्सेना, बाबा परमिंदर आर्य, यत्री बजरंग नंद सरस्वती, सोनू यादव, भीम नायक, विजय यादव के अलावा सेक्टर-48 गुड़गांव से विक्रम सिंह व सेक्टर-45 गुड़गांव से अमित यादव आए थे। पुलिस को सूचना मिलने पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। बता दें कि गुड़गांव  में कुछ दिन पहले खुले में नमाज अदा करने से विवाद हो गया था। 

 

खबरें और भी हैं...