• Hindi News
  • No fake news
  • After Throwing Stones In Khargone, The Police Arranged A Sit in Meeting With The Muslim Woman? Know The Truth Of This Viral Video

फेक न्यूज एक्सपोज:खरगोन में पत्थर फेंकने पर पुलिस ने मुस्लिम महिला से उठक-बैठक लगवाई? जानिए इस वायरल VIDEO का सच

4 महीने पहले

क्या हो रहा है वायरल : मध्यप्रदेश के खरगोन में रामनवमी के जुलूस के दौरान सांप्रदायिक दंगा भड़क उठा था। अब सोशल मीडिया पर इससे जोड़कर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिसकर्मियों के बीच एक मुस्लिम महिला कान पकड़कर उठक-बैठक लगा रही है।

दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो मध्यप्रदेश के खरगोन का है। जहां पत्थर फेंकने पर पुलिस ने मुस्लिम महिला से उठक-बैठक लगवाई। वीडियो शेयर कर यूजर्स ने लिखा- बाबा से कम निर्मोही नहीं हैं मामा, कान पकड़ कर उठक बैठक करती हुई सलमा अब से पत्थर नहीं फेकेगी।

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने इसके की-फ्रेम को गूगल पर रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें इससे जुड़ी खबर दैनिक भास्कर की गुजराती वेबसाइट दिव्य भास्कर पर मिली।
  • अप्रैल 2020 का ये वीडियो गुजरात के सूरत शहर के सलाबतपुर इलाके में स्थित मछली मार्केट का है। जहां लॉकडाउन का नियम तोड़ने पर पुलिसकर्मियों ने कार्रवाई करते हुए उससे उठक-बैठक करवाई थी।
  • दैनिक भास्कर के गुजराती संस्करण दिव्य भास्कर की वेबसाइट पर भी ये खबर 2 साल पहले पब्लिश हुई थी।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। ये वीडियो खरगोन का नहीं बल्कि अप्रैल 2020 का गुजरात के सूरत का है।