फेक न्यूज एक्सपोज:अमरावती में सांप्रदायिक हिंसा के बाद मस्जिद के सामने लहराए गए भगवा ध्वज; ये फेक न्यूज है, जानिए इसके VIDEO का सच

16 दिन पहले

क्या हो रहा है वायरल: महाराष्ट्र के अमरावती में इन दिनों सांप्रदायिक हिंसा के कारण शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। अब सोशल मीडिया पर इस मामले से जोड़ एक वीडियो शेयर किया जा रहा है। वीडियो में मस्जिद के सामने लोगों की भीड़ भगवा ध्वज लहराते नजर आ रही है। वहीं, वीडियो में ढोल नगाड़ों की आवाज भी आ रही है।

कई यूजर्स ने वीडियो शेयर कर लिखा- त्रिपुरा दंगे के खिलाफ मुसलमानों ने कल किए गए बंद के बाद आज भाजपा के विरोध प्रदर्शन के बाद महाराष्ट्र के अमरावती में कर्फ्यू।

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने वीडियो के की-फ्रेम को येंडेक्स पर रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें वायरल वीडियो से जुड़े फोटो ANI न्यूज एजेंसी के 13 अप्रैल, 2019 के एक पोस्ट में मिले।
  • ANI ने फोटो शेयर कर लिखा था, कर्नाटक के कलबुर्गी में आज निकाले रामनवमी जुलूस के दृश्य। इस दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राम भक्तों को जूस बांटा।
  • वायरल वीडियो और ANI की फोटो को देखने से साफ होता है कि ये वीडियो अमरावती का नहीं, कर्नाटक के कलबुर्गी शहर का है।
  • इससे पहले भी कलबुर्गी के रामनवमी जुलूस का वीडियो गलत दावे के साथ वायरल हुआ था। तब भी भास्कर की फैक्ट चेक टीम ने दावे का खंडन कर वीडियो का सच अपनी खबर में बताया था।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा पूरी तरह गलत है। ये वीडियो महाराष्ट्र के अमरावती का नहीं, कर्नाटक के कलबुर्गी शहर का है।
खबरें और भी हैं...