• Hindi News
  • No fake news
  • Did The BJP Leader Threaten The Elderly Person To Join The BJP? Know The Full Truth Of This Viral Video

फेक न्यूज एक्सपोज:क्या भाजपा नेता ने BJP में शामिल होने के लिए बुजुर्ग व्यक्ति को धमकाया? राहुल गांधी के शेयर किए VIDEO का पूरा सच जानिए

5 महीने पहले

क्या हो रहा है वायरल: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक युवक बुजुर्ग व्यक्ति की कमीज पकड़ कर उन्हें धमका रहा है। वह युवक उस बुजुर्ग व्यक्ति से कहता है कि बोलो तुम भाजपाई हो। वहीं, बुजुर्ग को कहते हुए सुना जा सकता है कि नहीं हूं मैं भाजपाई।

वीडियो शेयर कर राहुल गांधी ने लिखा- हिंदुत्ववादियों की राजनीति यानी गुंडागर्दी। राहुल गांधी के शेयर करने के बाद सोशल मीडिया पर ये वीडियो ​​जमकर वायरल हो रहा है। ​​​​​

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने इससे जुड़े की-वर्ड्स सोशल मीडिया पर सर्च किए। जहां हमें ये वीडियो अरविंद चौहान नाम के यूजर अकाउंट पर मिला।
  • वीडियो शेयर कर अरविंद ने लिखा- कानपुर के गोविंद नगर विधानसभा से वार्ड 91 के बीजेपी पार्षद राघवेंद्र मिश्रा ने वरिष्ठ नागरिक को कथित रूप से धमकी दी।
  • अरविंद के अकाउंट पर हमें इस वीडियो के रिप्लाई में इससे जुड़ा एक और वीडियो मिला।
  • वायरल वीडियो को लेकर किए जा रहे दावे का दोनों व्यक्तियों ने खंडन किया। भाजपाई युवक ने कहा- हमारे क्षेत्र में जितने भी बुजुर्ग हैं सबसे मेरा इसी प्रकार का संबंध है और सभी से हम हंसी-मजाक करते हैं। इसके बाद बुजुर्ग व्यक्ति को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि ये पारिवारिक बात है।
  • बुजुर्ग आगे कहते हैं- हमारे इनके पिताजी से बहुत अच्छे संबंध थे, ये हमारे भतीजे हैं। हमारी पार्टी जरूर अलग-अलग है, लेकिन हम लोग एक दूसरे को बहुत चाहते हैं। हमारा झगड़ा नहीं था, ये मजाक में बोल रहा था भाजपा में आ जाओ और हमारा कहना है कि क्यों आ जाएं। हम शुरू से कांग्रेसी रहे हैं।
  • पड़ताल के अगले चरण में हमने कानपुर के भास्कर संवाददाता आदित्य द्विवेदी से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा पूरी तरह गलत है।
  • आदित्य ने आगे बताया कि वायरल वीडियो में दिख रहा युवक भाजपा पार्षद राघवेंद्र मिश्र है। वहीं, बुजुर्ग व्यक्ति भूपेंद्र सिंह भदौरिया कांग्रेसी हैं। इन दोनों के बीच हंसी-मजाक चल रहा था। इस मामले को लेकर कोई FIR दर्ज नहीं हुई है।
  • आदित्य ने हमें भूपेंद्र सिंह भदौरिया का एक वीडियो भी भेजा। जिसमें उन्होंने वायरल वीडियो के साथ किए जा रहे दावे का खंडन किया है।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के साथ किया जा रहा दावा पूरी तरह गलत है।
खबरें और भी हैं...