फेक न्यूज एक्सपोज:ट्रम्प ने वीडियो शेयर कर लगाया अमेरिकी चुनाव में धांधली का आरोप, पड़ताल में दावा फेक निकला

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

क्या हो रहा है वायरल : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 12 नवंबर को ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया। इसमें कुछ लोग रोड पर रखे बॉक्स में से पोस्टल बैलेट निकालकर बैग में रखते दिख रहे हैं।

ट्रम्प ने वीडियो शेयर करते हुए राष्ट्रपति चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है। दावा है कि बॉक्स से जो बैलट जुटाए जा रहे हैं, उन्हें वोट की गिनती में शामिल नहीं किया गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन ने ट्रम्प को हराकर बहुमत के लिए जरूरी इलेक्टोरल वोट हासिल कर लिए हैं। चुनाव नतीजों के बाद से ही ट्रम्प लगातार वोट की गिनती में धांधली के आरोप लगा रहे हैं। ऐसा ही आरोप ट्रम्प ने वीडियो शेयर करते हुए लगाया।

और सच क्या है ?

  • पड़ताल की शुरुआत में हमने वायरल वीडियो में बैकग्राउंड से आ रही आवाज को ध्यान से सुना।
  • बॉक्स में से पोस्टल बैलेट कर रहा शख्स वीडियो बना रही महिला को जवाब देता है कि ये पोस्टल बैलेट हैं। सबूत के तौर पर शख्स अपना आईडी कार्ड भी महिला को दिखाता है।
  • ट्रंप के अलावा ट्विटर पर कई अन्य यूजर्स ने इस वीडियो के आधार पर राष्ट्रपति चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है। लॉस एंजिल्स के कंट्री रजिस्ट्रार ने इस दावे का जवाब दिया है।
  • रजिस्ट्रार के ट्वीट का हिंदी अनुवाद है: किसी बैलट का कलेक्शन नहीं छूटा है। ड्रॉप बॉक्स को चुनाव की रात 8 बजे बंद कर दिया जाता है। इसके अगले दिन बैलेट एकत्र किए जाते हैं। ये बैलेट पूरी तरह वैद्य होते हैं।
  • इन सबसे साफ है कि वायरल वीडियो में बॉक्स से निकाले जा रहे बैलट्स को वोटों की गिनती में छोड़ा नहीं गया है। बैलट्स को चुनाव के अगले दिन कलेक्ट करके काउंट किया गया। ट्रम्प का दावा पड़ताल में फेक निकला।
खबरें और भी हैं...