फैक्ट चेक / 10 साल की कड़ी मेहनत से यूपी वालों ने उगाए जामुनी रंग के आम, लेकिन वायरल तस्वीर तो ब्राजील की है

Fact check- Viral images of purple mango being harvested in UP
X
Fact check- Viral images of purple mango being harvested in UP

  • क्या फेक : उत्तरप्रदेश में 10 साल की मेहनत के बाद आम और जामुन को मिलाकर जामुनी आम उगाए जा रहे हैं
  • क्या सच : वायरल तस्वीरें आम की दो किस्मों टॉमी एटकिन्स और पामर की है, तस्वीर ब्राजील के फार्म में खींची गई है

Jul 10, 2019, 08:12 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर इन दिनों पेड़ पर लदे जामुनी रंग के एक फल की तस्वीरें शेयर की जा रहीं हैं। दावा किया जा रहा है कि ये फल असल में जामुनी रंग के आम हैं जो 10 साल की कड़ी मेहनत के बाद आम और जामुन को मिलाकर बनाए गए हैं । उत्तरप्रदेश के खेतों में पककर तैयार इन आमों को डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद बताया जा रहा है।

 

यूजर्स लिख रहे हैं, "10 वर्ष की कड़ी मेहनत के बाद आम और जामुन की पौध को मिलाकर बनाया गया जामुनी रंग का आम।"

 

क्या वायरल
ये तस्वीरें 2016 और 2018 में भी सोशल मीडिया पर शेयर की गईं थीं।

 

 

क्यों फेक

  • आम की ये तस्वीरे फेक नहीं है और ना ही फोटोशॉप से बनाई गईं हैं।
  • हालांकि 10 साल की मेहनत के बाद जामुन और आम को मिलाकर उत्तरप्रदेश में बनाने की बात फर्जी है।
  • आम की दोनों तस्वीरें अमेरिका में विकसित की गई दो अलग-अलग किस्मों की है। 
  • गूगल रिवर्स इमेज टूल की मदद से पता चला कि पहली तस्वीर ब्राजील के फार्म में खींची गई है।
  • द टेलीग्राफ द्वारा ब्राजील में आम की यात्रा पर 10 अक्टूबर 2013 को पब्लिश किए गए एक आलेख में वायरल तस्वीर का लगाई गई थी। 
     
''

 

  • विवरण के अनुसार तस्वीर उत्तर-पूर्वी ब्राजील के परनामबुको राज्य के किसी फार्म की है। आम पामर किस्म का है, और यह तस्वीर एंड्रे वियेरा ने क्लिक की है।
  • पामर किस्म फ्लोरिडा(यूएस) में विकसित की गई थी, लेकिन अब ब्राजील में बहुतायत में उगाए जाते हैं। इसका पहला पेड़ 1925 में मियामी (फ्लोरिडा) में लगाया गया था।

 

  • जामुनी आमों की दूसरी तस्वीर साल 2001 से इंटरनेट पर उपलब्ध है। 
  • ब्राजील की एक नर्सरी की वेबसाइट पर इस तस्वीर को टॉमी एटकिन्स किस्म का बताया गया है।
     
''

 

  • आम की यह किस्म भी फ्लोरिडा में ही विकसित की गई थी। टॉमी एटकिन्स यूएस में आम की सबसे ज्यादा उगाई जाने वाली किस्मों में से एक है।
  • हालांकि वर्तमान में इन किस्मों के बीज मंगवाकर भारत में भी जामुनी आम उगाए जा रहे हैं।
  • न्यूज एजेंसी एएनआई ने इस बारे में एक रिपोर्ट अपने यूट्यूब चैनल पर जुलाई 2017 में अपलोड की थी।

 

 

  • पड़ताल से साफ है कि दोनों तस्वीरें उत्तरप्रदेश या भारत के किसी भी राज्य की नहीं है। दोनों किस्मों को यूएस में विकसित किया गया है।

 

''


 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना