• Hindi News
  • No fake news
  • Fake Message Circulating Claiming Https: Ayushman yojana.org As Official Website Of Ayushman Bharat Yojana

फैक्ट चेक:कोरोना पीड़ितों के नाम पर ठगी कर रही आयुष्मान योजना की फर्जी साइट, इसका वैकेंसी और सरकार से कोई लेना देना नहीं

2 वर्ष पहले
  • क्या वायरल: सोशल मीडिया पर ayushman-yojana.org नाम की वेबसाइट को आयुष्मान योजना की असली साइट बताकर फॉर्म भराए जा रहे
  • सच्चाई: आयुष्मान योजना की ऑफिशियल साइट pmjay.gov.in, फेक साइट ayushman-yojana.org कोरोना के नाम पर धोखाधड़ी कर रही

कोरोना पीड़ितों के नाम पर एक फर्जी वेबसाइट वॉट्सएप मैसेज में ayushman-yojana.org को आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट बताकर झूठ फैला रही है। इस वेबसाइट के जरिये बीते एक साल से फेक वैकेंसी के जरिये लोगों से फॉर्म भरवाए जाते हैं और ऑनलाइन पेमेंट लिया जाता है। दिलचस्प बात यह है कि वेबसाइट चलाने वाले इन दिनों कोरोना लॉकडाउन का बहाना लेकर लोगों को कह रहे हैं कि उनसे लिए पैसों से जरूरतमंदों की मदद की जा रही है।

इस साइट पर विज्ञापन देकर आयुष मित्र डॉक्टर, एएनएम, जीएनएम, फॉर्मासिस्ट, नर्स, लैब असिस्टेंट और वार्ड ब्वाय के पदों पर आवेदन मांगे जाते हैं और उसके साथ 200 से 300 रुपए का आवेदन शुल्क लिया जाता है। वर्तमान में भी ऐसी ही वैकेंसी आयुषमित्र पुरुष/महिला, वार्ड बॉय, नर्स, लैब असिस्टेंट, 2020 की परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। कहा जा रहा है कि ये परीक्षा 26 जुलाई 2020 को होगी। सच्चाई यह है कि ayushman-yojana.org एक फेक वेबसाइट है और इसका आयुष्मान भारत योजना की ऑफिशियल साइट (pmjay.gov.in) से कोई लेना देना नहीं है। नेशनल हेल्थ अथॉरिटी और पीआईबी ने भी ayushman-yojana.org को फेक साइट बताकर इससे बचने को कहा है।

क्या वायरल:  इस वेबसाइट से इस तरह का मैसज वायरल हो रहा है। 

सभी को धन्यवाद।
कोरोनावायरस (कोविद -19) बीमारी के रूप में चिकित्सा आपातकाल ने पूरे भारत को बंद कर दिया है, जितना भी धन इकट्ठा होता है आवेदन शुल्क से, उससे हमारे स्वयंसेवक लोगों को खाना खिलाने व् दैनिक जरूरतें में मदद करने के लिए उपयोग कर रहे है और इसका कारण बहुत सरल है, कि कोई भी भूखा नहीं सोये। हम प्रतिदिन लगभग 250 परिवारों को दैनिक राशन की आपूर्ति कर रहे हैं।
अगर अपने पेमेंट कर दिया है और आपको रजिस्ट्रेशन नंबर नही आ रहा है, तो आप अपने पेमेंट आइडी, पेमेंट तारीख़, पेमेंट मोबाइल और पेमेंट ईमेल आइडि भेजे जिससे की आपको रजिस्ट्रेशन नंबर भेज सके। ईमेल भेजें: admin@ayushman-yojana.org

आप जैसे ही फ़ॉर्म को भरते है आपको ईमेल भेजा जाता है। जिसमें पेमेंट लिंक भी होता है। आपको दुबारा फ़ॉर्म भरने को कोई जरूरत नहीं होता है।

इस तरह का मैसेज भी वायरल हो रहा।
इस तरह का मैसेज भी वायरल हो रहा।
ऑनलाइन आवेदन के लिए अंतिम तिथि का ऐसा फेक मैसेज वायल हाे रहा।
ऑनलाइन आवेदन के लिए अंतिम तिथि का ऐसा फेक मैसेज वायल हाे रहा।

फैक्ट चेक सच्चाई

  • इस वेबसाइट ayushman-yojana.org और http://www.ayushmanyojana.org नाम की दो वेबसाइट हैं और ये दोनों ही एक डोमेन पर लेकर जाती हैं। ये दोनों साइट एक ही हैं, फर्क सिर्फ एक डैश (-) का है।
  • .org डोमेन वाली इस वेबसाइट को खोलने पर जो पेज सामने आता है उसमें अधिकांश लिंक ओपन नहीं होती और हमारे यहां इस तरह के डोमेन नेम से कोई भी सरकारी वेबसाइट नहीं होती। सारी वेबसाइट का डोमेन .gov.in या nic.in होता है।
  • वेबसाइट पर इन दिनों कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए बुलेटिन-प्रेस रिलीज के नाम से मैसेज चलाया जा रहा है वह सिर्फ लोगों को भ्रम में डालने की कोशिश है क्योंकि आवेदन के नाम पर ली जा रही राशि का कोई हिसाब-किताब नहीं है और न ही ये बताया गया है कि मदद कहां की जा रही है।
  • इस वेबसाइट के बारे में उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव की ओर से लेटर जारी करके कहा गया है कि ये एक नकली वेबसाइट है। आयुषमित्र पुरुष/महिला, वार्ड बॉय, नर्स, लैब असिस्टेंट, 2020 की परीक्षा के लिए 26 जुलाई 2020 को कोई परीक्षा नहीं है।
  • भारत सरकार की ओर से नेशनल हेल्थ एजेंसी ने भी इस साइट और इसकी वैकेंसी को पूरी तरह से फेक बताया है।
  • पीआईबी ने भी अपने फैक्ट चेक ट्विटर हैंडल पर इस ayushman-yojana.org को फेक साइट बताया है और कहा है कि आयुष्मान भारत योजना की ऑफिशियल साइट pmjay.gov.in है।

आयुष्मान योजना की किसी भी जानकारी के लिए असली साइट है -https://www.pmjay.gov.in/ और यह ऐसी दिखती है। इसका मोबाइल ऐप भी उपलब्ध है।

आयुष्मान योजना का लाभ लेने के लिए असली साइट https://www.pmjay.gov.in/
आयुष्मान योजना का लाभ लेने के लिए असली साइट https://www.pmjay.gov.in/

निष्कर्ष:  

सरकार की ओर से जारी स्पष्टीकरण और ayushman-yojana.org को विजिट करने के बाद यह समझ आता है कि ये एक पूरी तरह फेक वेबसाइट है। अगर आपके पास भी इस साइट के नाम से कोई मैसज आए तो उस पर भरोसा न करें और न ही उसे आगे फॉरवर्ड करें।