फैक्ट चेक / फर्जी है दलित को जिंदा जलाए जाने की खबर, अतिक्रमण हटाए जाने के डर से युवक ने खुद को लगाई थी आग

BJP and Police burnt dalit| fake video of man torch himself| fake news| fact check
X
BJP and Police burnt dalit| fake video of man torch himself| fake news| fact check

Dainik Bhaskar

Jan 24, 2020, 04:40 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. व्हाट्सएप पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो के साथ शेयर हो रही संदेश में यह दावा किया जा रहा है कि दलित को जमीन पर कब्जा करने के इरादे से जला दिया गया है। भास्कर के पाठक की सिफारिश पर हमने जब मामले की पड़ताल की तो खबर गलत निकली।

'चौपट हुई कानून व्यवस्था'
सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कहा जा रहा है कि "जबरन कब्जा करा रही  पुलिस व भाजपा नेता रोकने पर दलित को जिन्दा जला दिया मोदी राज में सबसे ज्यादा दलितों व मुस्लिमो पर जुलम किए जा रहे हैं। दलितों को जिंदा जला दिया कानून व्यवस्था चौपट हो गई है जिस भाई ने यह वीडियो शेयर नहीं किया तो थू है उसकी जिंदगी पर और मैं समझता हूं मेरे हिसाब से इस से घटिया इंसान और कोई नहीं होगा। यह भारत देश है यहां पर गरीबों की नहीं सुनी नहीं जाती"

भास्कर पड़ताल में दावा झूठा निकला
हमने पड़ताल में पाया कि यह वीडियो सही है, लेकिन गलत संदेश के साथ सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है। यह घटना 7 जुलाई 2019 को राजस्थान के गुदागौड़जी में घटी थी। अतिक्रमण हटाने की खबर से डरकर 35 वर्षीय युवक ने खुद को आग लगा ली थी। इतना ही नहीं आत्मदाह का प्रयास करने वाले युवक ने पुलिसवालो को पकड़ने की भी कोशिश की। दैनिक भास्कर के अलावा कई समाचार एजेंसियों ने भी खबर की पुष्टि की थी।

निष्कर्ष: स्पष्ट होता है कि दलित युवक को जिंदा जला देने की खबर वाला वीडियो फर्जी है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना