पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • No fake news
  • Health Minister Dr. Harsh Vardhan Sitting On Protest Against Bengal Violence Ignoring The Corona Crisis? 2 year old Photo Came Out In The Investigation

फेक न्यूज एक्सपोज:कोरोना संकट को नजरअंदाज कर बंगाल हिंसा के विरोध में धरने पर बैठे स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन? पड़ताल में 2 साल पुरानी निकली फोटो

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की एक फोटो वायरल हो रही है। फोटो में डॉ. हर्षवर्धन भाजपा नेताओं के साथ धरना देते हुए नजर आ रहे हैं। नेताओं के हाथ में बंगाल बचाओ, लोकतंत्र बचाओ का बोर्ड है और मुंह पर उंगली रख कर वह मौन प्रदर्शन कर रहे हैं।

पोस्ट में फोटो के साथ लिखा है, बीच में बैठा आदमी, इस देश का स्वास्थ्य मंत्री है। 5-7 के मरने पर धरने पर बैठ गये, रोज ऑक्सीजन और दवा की कमी से 3000 से 3500 और ज्यादा भी मर रहे हैं, वो दिखाई नहीं देता। क्योंकि इनको सिर्फ अपने कार्यकर्ताओं की चिंता है, जनता जाए भाड़ में...

इस पोस्ट को 4 हजार से अधिक लोगों ने शेयर किया है।

और सच क्या है?

  • वायरल फोटो की सच्चाई जानने के लिए हमने फोटो को येंडेक्स पर रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें ये फोटो दूरदर्शन की न्यूज वेबसाइट पर खबर के साथ मिली।
  • वेबसाइट के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में बीजेपी के रोड शो में हिंसा की घटना हुई थी। इस घटना का जिम्मेदार भाजपा ने ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस को ठहराया था। इसके बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता निर्मला सीतारमण, डा हर्षवर्धन ओर विजय गोयल सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के जंतर-मंतर में धरना प्रदर्शन किया था।
  • ध्यान देने वाली बात यह है कि ये फोटो खबर के साथ वेबसाइट पर 15 मई 2019 को पब्लिश हुई थी।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा पोस्ट फेक है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की 2 साल पुरानी फोटो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।
खबरें और भी हैं...