• Hindi News
  • No fake news
  • Home Ministry's Permission To Open Schools False News, Rumor Was Spread By Misinterpreting The Order Of May 20, The Ministry Denied

फैक्ट चेक:देश में स्कूल खुलने की खबर झूठी, गृह मंत्रालय के आदेश का गलत मतलब निकालकर फैलाई गई अफवाह

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • वायरल : सोशल मीडिया पर यह खबर फैलाई जा रही है कि गृह मंत्रालय ने देश के सभी स्कूलों को खोलने की अनुमति दे दी है
  • सच्चाई : गृह मंत्रालय ने ऐसा कोई आदेश नहीं दिया है। मिनिस्ट्री के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर भी इस खबर को गलत बताया गया है

देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन के नियमों में ढील मिलनी शुरू हो गई है। कुछ जगहों पर शर्तों के साथ बाजार तक खुलने की अनुमति मिल गई है। गृह मंत्रालय ने विभिन्न स्टेट बोर्ड और सीबीएसई के अनुरोध पर कुछ शर्तों के साथ बची हुई बोर्ड परीक्षाएं कराने की अनुमति भी दे दी है।

इसी बीच कुछ लोग सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल कर रहे हैं कि गृह मंत्रालय ने देश भर के स्कूलों को खोलने की अनुमति दे दी है। फेसबुक और ट्विटर पर बड़ी संख्या में यूजर्स इस खबर को शेयर कर रहे हैं। इस सूचना को शेयर करते हुए यूजर्स लोगों से अपील कर रहे हैं कि अपने बच्चों को स्कूल न भेजें।

क्या वायरल :  

  • पोस्ट्स और ट्विट्स में सरकार पर एक वायरल मैसेज के आधार पर निशाना साधा जा रहा है। मैसेज, जिसमें लिखा है कि गृह मंत्रालय ने देश के सभी स्कूलों को खोलने की अनुमति दे दी है।
  • इंडिया न्यूज यूपी/यूके नाम के ट्विटर हैंडल ने 20 मई शाम 5:23 बजे एक ट्वीट किया। जिसमें लिखा था, गृह मंत्रालय ने स्कूल खोलने के लिए सभी राज्यों के प्रमुख सचिवों को चिट्‌ठी भेजी है।
ट्विटर पर स्कूल खोलने की अनुमति से जुड़ी यह तस्वीर वायरल हो रही है
ट्विटर पर स्कूल खोलने की अनुमति से जुड़ी यह तस्वीर वायरल हो रही है
  • मनीष तिवारी नाम के फेसबुक यूजर ने भी यह भ्रामक खबर प्रसारित करते हुए लिखा कि अपने बच्चों को स्कूल भेजने की गलती न करें।
फेसबुक पर इस फर्जी खबर के आधार पर लोग पैरेंट्स को चेतावनी दे रहे हैं
फेसबुक पर इस फर्जी खबर के आधार पर लोग पैरेंट्स को चेतावनी दे रहे हैं
  • वापी न्यूज डिपोट नाम के ट्विटर हैंडल ने भी इस खबर को प्रसारित किया।
  • ललित राठौड़ नाम के फेसबुक अकाउंट से 26 मई को यह फर्जी सूचना पोस्ट की गई।

फैक्ट चेक पड़ताल 

  • गृह मंत्रालय ने 20 मई, 2020 को एक आदेश जारी करते हुए स्टेट बोर्ड्स और सीबीएसई को कुछ शर्तों के साथ 10वीं व 12वीं की परीक्षाएं आयोजित कराने की अनुमति दी।
  • इसी आदेश का गलत अर्थ निकालकर यह अफवाह फैलाई गई कि स्कूलों को खोलने की अनुमति दे दी गई है। यह गृह मंत्रालय का आदेश है, जिसमें स्पष्ट रूप से शर्तें भी लिखी हैं।
  • अफवाह फैलने के बाद मिनिस्ट्री के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से 26 मई को रात 10:48 बजे एक बयान जारी कर इस खबर को गलत बताया गया।
गृह मंत्रालय की ओर से ट्विटर पर दिया गया स्पष्टीकरण।
गृह मंत्रालय की ओर से ट्विटर पर दिया गया स्पष्टीकरण।