फैक्ट चेक / 'मुख्यमंत्री की मन्नत' के मैसेज वाली तस्वीरें वायरल, जबकि उद्धव ठाकरे अजमेर दरगाह गए ही नहीं

Uddhav Thackeray: No Fake News, Maharashtra CM Uddhav Thackeray Dargah Old Photo Going Viral
X
Uddhav Thackeray: No Fake News, Maharashtra CM Uddhav Thackeray Dargah Old Photo Going Viral

  • क्या वायरल : ठाकरे परिवार की दरगाह वाली पुरानी फोटोज वायरल हो रही है। इसमें दावा किया जा रहा है कि मुख्यमंत्री बनने की मन्न्त पूरी होने के बाद आदित्य ठाकरे ख्वाजा के दरबार में पहुंचे
  • क्या सच : दरगाह की यह तस्वीरें पुरानी हैं। हाल फिलहाल ऐसी कोई यात्रा उद्धव ठाकरे ने नहीं की

Dainik Bhaskar

Dec 01, 2019, 01:40 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर मैसेज वायरल हो रहा है कि शिवसेना का मुख्यमंत्री बनने के बाद आदित्य ठाकरे ख्वाजा के दरबार में पहुंचे। इस मैसेज के साथ उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे की फोटो भी नजर आ रही है। दैनिक भास्कर मोबाइल एप के एक पाठक ने हमें यह वायरल मैसेज पुष्टि के लिए भेजा। पड़ताल में पता चला कि यह फोटोज अभी के नहीं बल्कि पुराने हैं। 

क्या वायरल

  • एक यूजर ने इन फोटोज को फेसबुक पर शेयर करते हुए लिखा है कि ' ख़्वाजा के दरबार में पहुंचे आदित्य ठाकरे । शिवसेना का मुख्यमंत्री बनने की मांगी थी मन्नत जो हुई पूरी।
  • मेरा ख़्वाजा चाहें उसे नवाज़े । हिंदुत्व के मुद्दों पे अडग रहने वाली पार्टी को भी अजमेर दरबार में बुला के सल्तनत का अमीर बनाया।'
  • 28 नवंबर को उद्धव ठाकरे महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले चुके हैं। शिवसेना ने एनसीपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई है। 

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल में पता चला कि वायरल की जा रही फोटोज पुरानी हैं। 

इमेज : 1

  • रिवर्स सर्च से पता चला कि यह फोटो जून 2019 की है, तब आदित्य ठाकरे अजमेर शरीफ दरगाह पर पहुंचे थे। इंडिया टीवी के फुटेज से भी इस बात की पुष्टि होती है। 

इमेज 2

  • यह फोटो 28 मार्च 2017 का मातोश्री का है। तब उद्धव ठाकरे ने अपनी पत्नी रश्मि और बेटे आदित्य के साथ 42 फीट लंबी चादर खादिम को भेंट की थी। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट से इस बात की पुष्टि होती है। 

इमेज 3

  • इस चादर को सालाना उर्स के मौके पर 4 अप्रैल 2017 को सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर भेंट किया गया था। 
  • शिवसेना के यूथ विंग के मेम्बर राहुल एन कनाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी भी दी थी। 

निष्कर्ष : पड़ताल से स्पष्ट होता है कि अलग-अलग समय पर ली गईं पुरानी फोटोज को अभी का बताकर वायरल किया जा रहा है। सीएम पद की शपथ लेने के बाद उद्धव ठाकरे की दरगाह जाने की बात गलत है। 
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना