• Hindi News
  • No fake news
  • No Fake News : Maharashtra Maratha Andolan Video Shared As Opposition To Privatization Of Railways

फैक्ट चेक / महाराष्ट्र में हुए प्रदर्शन के दौरान चली गोलियों को बता रहे रेलवे के निजीकरण का विरोध

No Fake News : Maharashtra Maratha Andolan Video Shared As Opposition To Privatization Of Railways
X
No Fake News : Maharashtra Maratha Andolan Video Shared As Opposition To Privatization Of Railways

  • क्या वायरल : एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाते नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि, यह विरोध रेलवे के निजीकरण के विरोध में हुआ था
  • क्या सच : वीडियो जुलाई 2018 में महाराष्ट्र में हुए मराठा आंदोलन का है। तब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को भगाने के लिए रबड़ की गोलियों से फायरिंग की थी

दैनिक भास्कर

Oct 31, 2019, 04:15 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें कुछ पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग करते नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है
कि रेलवे के निजीकरण के विरोध में प्रदर्शन करने पर पुलिस ने लोगों पर गोली चलाई। दैनिक भास्कर मोबाइल ऐप के एक पाठक ने हमें यह वायरल वीडियो ईमेल के जरिए पुष्टि के लिए भेजा। पड़ताल में सोशल मीडिया का दावा झूठा साबित हुआ। 

 

क्या वायरल

  • 1 मिनट की अवधि वाला एक वीडियो। 
  • इसमें दो पुलिसकर्मी प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाते नजर आ रहे हैं। 
वायरल वीडियो।

 

  • गोली चलते ही प्रदर्शनकारी भागते नजर आते हैं। 
  • कुछ लोग गोली लगने से घायल होते हैं, जिन्हें पुलिस एम्बुलेंस में ले जाते हुए नजर आ रही है। 
  • इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि, रेलवे के निजीकरण के विरोध में प्रदर्शन कर रहे स्टूडेंट्स का एनकाउंटर। 

क्या है सच्चाई

  • गूगल पर रिवर्स इमेज सर्चिंग में पता चला कि यह वीडियो रेलवे के निजीकरण के विरोध का नहीं है, बल्कि महाराष्ट्र में हुए मराठा आरक्षण को लेकर हुई हिंसा का है। 
  • यह घटना जुलाई 2018 की है। कई मीडिया संस्थानों ने इसे प्रचारित-प्रसारित किया था। 
  • इंडिया टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र के नांदेड़ में पुलिस और पब्लिक के बीच झड़प हुई थी। पुलिस ने मराठा आंदोलनकारियों को भगाने के लिए रबड़ की गोलियां चलाईं थीं। 
  • दो मराठा आंदोलनकारियों को जैसे ही गोली लगी, वैसे ही बाकी के लोग भाग गए। भीड़ के बेकाबू होने पर पुलिस ने रबड़ की गोलियों से फायरिंग की थी। 
  • पड़ताल से स्पष्ट होता है कि सोशल मीडिया का दावा गलत है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना