--Advertisement--

सोशल सच / चार साल पुराने वायरल फोटो में औवेसी का हाथ थामे दिखे अमित शाह, लेकिन असली फोटो में तो मोदी थे



morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
X
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media
morphed image of amit shah and asaduddin owaisi gone viral on social media

  • वायरल फोटो को शेयर कर लोग बीजेपी और ओवैसी पर मिले होने का आरोप लगा रहे हैं
  • पड़ताल में पता चला कि ये फोटो 4 साल पुरानी है और असली फोटो में ओवैसी की जगह पीएम मोदी हैं
  • वायरल फोटो को पिछले साल कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी शेयर किया था

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 07:48 PM IST

नो फेक न्यूज डेस्क. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 3 दिसंबर को ट्वीट कर तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (टीआरएस), बीजेपी और असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम पर मिले होने का आरोप लगाया था। राहुल ने ट्वीट कर कहा था कि, 'टीआरएस बीजेपी की 'बी' टीम है जबकि एमआईएमआईएम के ओवैसी बीजेपी की 'सी' टीम है।' राहुल के इस ट्वीट के बाद ओवैसी ने राहुल पर भी हमला किया था।

 

लेकिन इन सबके बीच सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है। इस फोटो में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने असदुद्दीन ओवैसी का हाथ पकड़ा है और झुके हुए हैं। इस फोटो के सहारे लोग ओवैसी और बीजेपी पर मिले होने का आरोप लगा रहे हैं।

 

हालांकि, हमारी पड़ताल में सामने आया कि ये फोटो पूरी तरह से फेक और फोटोशॉप है। इस फोटो में पीएम मोदी के चेहरे की जगह ओवैसी का चेहरा लगाकर वायरल किया जा रहा है। इस फोटो को पिछले साल कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी शेयर किया था।

 

क्या है फोटो में?

  • इस फोटो को फेसबुक पर 'कांग्रेस देश की जान #CDKJ' नाम के ग्रुप में जॉन्स वर्गीस नाम के यूजर ने शेयर किया है। इस फोटो को शेयर करते हुए जॉन्स ने लिखा, 'चलो मिल कर के धरम का धंधा करते हैं, थोड़ा तुम कमाओ थोड़ा हम कमाते हैं।'

 

no fake news

 

पड़ताल : क्यों झूठी है ये फोटो?

  • इस फोटो की सच्चाई जानने के लिए हमने गूगल रिवर्स इमेज सर्च पर इस फोटो को ढूंढा। इस फोटो को ढूंढने पर हमें ब्रिटिश वेबसाइट डेलीमेल की लिंक मिली जिसमें यही फोटो 20 अक्टूबर 2014 को लगाई गई थी।

no fake news

  • दरअसल, 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद इसी साल महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव हुए और दोनों ही जगह बीजेपी ने अपनी सरकार बनाई।
  • डेलीमेल ने अपनी खबर पर हेडलाइन दी 'Modi magic secures two states: BJP celebrates as Congress comes a poor third in Maharashtra and Haryana'

no fake news

  • इस खबर के मुताबिक, महाराष्ट्र की 288 में से 122 सीटें और हरियाणा की 90 में से 47 सीटें जीतने के बाद दिल्ली स्थित पार्टी के हेडक्वार्टर में एक कार्यक्रम हुआ। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे थे, जिनका स्वागत बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने किया था। 

 

 

  • इसी समय की फोटो को एडिट कर मोदी की जगह ओवैसी का चेहरा लगाकर वायरल किया जा रहा है। वायरल फोटो को फरवरी 2017 को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भी शेयर किया था, लेकिन उन्होंने भी इसे फोटोशॉप ही बताया था।
  • इससे पता चलता है कि सोशल मीडिया पर अमित शाह और ओवैसी की जिस फोटो को वायरल किया जा रहा है, वो फेक और फोटोशॉप है।

अगर आपके पास भी कोई फेक न्यूज है तो हमारे साथ साझा कीजिए। हम उसकी पड़ताल कर उसकी सच्चाई आप तक पहुंचाएंगे। हमें dbnofakenews@gmail.com पर ईमेल करें। 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..