फैक्ट चेक / कांग्रेस ने जिस वीडियो को दलित उत्पीड़न बताया, वास्तव में वो राजपूतों के बीच हुई लड़ाई का वीडियो है

No Fake News On Dalits Being Attacked in UP
X
No Fake News On Dalits Being Attacked in UP

  • क्या वायरल : एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें तीन लोग दो अन्य लोगों को लाठियों से पीटते हुए नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि, यह दलित उत्पीड़न का वीडियो है। दबंगों द्वारा दलितों की पिटाई की जा रही है
  • क्या सच : मैनपुरी पुलिस के मुताबिक, वायरल वीडियो राजपूतों के बीच हुई लड़ाई का है। इसका दलितों से कोई लेनादेना नहीं है

दैनिक भास्कर

Nov 12, 2019, 03:17 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी शेयर किया जा रहा है। इसमें तीन लोग लाठियों से दो अन्य लोगों को पीटते नजर आ रहे हैं। इस वीडियो को पहले इंडियन नेशनल कांग्रेस द्वारा शेयर किया गया। इसके बाद प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी इसे शेयर करते हुए लिखा कि 'उप्र में दबंगों ने गवाही देने के लिए भयावह तरीके से दलित भाइयों की पिटाई कर दी...भाजपा सरकार मूकदर्शक बनी देख रही है...हर रोज दलित-आदिवासियों पर दबंग-अपराधी खुलेआम हमले कर रहे हैं...कानून-व्यवस्था का ये हाल और दलित आदिवासियों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।' दैनिक भास्कर मोबाइल ऐप के एक पाठक ने हमें यह वीडियो पुष्टि के लिए भेजा। जानिए इसकी पूरी हकीकत। 

 

क्या वायरल

  • यह वीडियो ट्वीट पर कांग्रेस और प्रियंका गांधी द्वारा शेयर किया गया है। 

 

  • यह वीडियो भारत समाचार द्वारा प्रसारित किया गया है, हालांकि वीडियो में यह कहीं भी नहीं लिखा गया कि पिटने वाला दलित है। 

क्या है सच्चाई

  • वीडियो वायरल होने के बाद मैनपुरी पुलिस ने ट्वीटर पर स्पष्ट किया कि 'झगड़ा राजपूत परिवारों में हुआ था। जिसमें अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है। पुलिस ने दलित उत्पीड़न का खंडन किया। पुलिस के मुताबिक, एक पक्ष के 5 लोगों ने मिलकर दूसरे पक्ष के 2 लोगों की पिटाई की। 

 

  • मैनपुरी पुलिस ने बाद में इस मामले में एक विस्तृत वीडियो भी जारी किया और मीडिया से बिना पुष्टि के खबर प्रचारित-प्रसारित न करने की अपील की। 

 

  • मैनपुरी के अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि, पीड़ितों के दलित होने की बात झूठी है। 
  • पड़ताल से यह स्पष्ट होता है कि वायरल वीडियो ठाकुरों के बीच फसल को लेकर हुई लड़ाई का है, न की दलित उत्पीड़न का।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना