फैक्ट चेक / भ्रामक है केक वाला वीडियो, कंपनी इस प्रोडक्ट को सिर्फ ईराक में बेचती है

No Fake News On Luppo Coconut Cream Bar Paralysis Tablet
X
No Fake News On Luppo Coconut Cream Bar Paralysis Tablet

  • क्या वायरल : एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें लुप्पो नाम के ब्रांड वाले एक क्रीम बार में से टेबलेट निकलती दिखाई जा रही हैं। दावा है कि, इस टेबलेट को खाने से बच्चे लकवा का शिकार हो रहे हैं
  • क्या सच : वीडियो दुनियाभर में वायरल हो चुका है। कंपनी ने प्रवक्ता ने इसे फर्जी बताया है। कंपनी का कहना है कि यह प्रोडक्ट सिर्फ ईराक में ही बेचा जाता है, ब्रांड इमेज खराब करने के लिए इसे वायरल किया गया है

Dainik Bhaskar

Jan 10, 2020, 05:15 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया में वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें लुप्पो (LUPPO) क्रीम बार के कुछ पैकेट नजर आ रहे हैं। वीडियो में कोई व्यक्ति एक पैकेट खोलता नजर आता है और उसमें से क्रीम बार को बाहर निकालता है। फिर क्रीम बार को तोड़कर वो उसमें से दो टेबलेट दिखाता नजर आता है। इस वीडियो के बैक्रग्राउंड में कोई भी आवाज नहीं आ रही। इसके साथ में एक मैसेज वायरल किया जा रहा है, जिसमें लिखा है कि मार्केट में एक नया केक आया है...ल्युपो कंपनी का...इसमें कोई टेबलेट डाली हुई है, जिसको खाने से बच्चों को लकवा की बीमारी होती है। 

क्या वायरल

दैनिक भास्कर मोबाइल ऐप के एक पाठक ने हमें यह वायरल वीडियो पुष्टि के लिए भेजा। 

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल में पता चला कि यह वीडियो भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में वायरल हो चुका है। 
  • यूएस में भी इसे काफी वायरल किया जा चुका है और दावा किया गया कि, तुर्की में बनने वाले इस प्रोडक्ट को यूएस, मैक्सिको में बेचा जाता है। 
  • कई इंटरनेटशनल फैक्ट चेकिंग वेबसाइट इस वायरल वीडियो की जांच कर चुकी हैं। जांच में वायरल दावा झूठा पाया गया। 
  • इंटरनेशनल फैक्ट चेकिंग वेबसाइट snopes ने इस वीडियो को नवंबर 2019 में डीबंक किया था और पाया था कि दावा झूठा है। 
  • snopes की रिपोर्ट के मुताबिक, वीडियो को देखकर यह पता नहीं चलता कि क्रीम बार में किसने टेबलेट मिलाई। इस बात का भी कोई प्रमाण नहीं कि निर्माता ने इसमें टेबलेट मिलाई। snopes के मुताबिक, लुप्पो कोकोनट क्रीम बार सिर्फ ईराक में बेचा जाता है। snopes को निर्माता कंपनी द्वारा प्रोडक्शन प्रॉसेस,
  • सेफ्टी सर्टिफिकेट भी प्रोवाइड करवाए गए जिससे यह साबित हुआ कि वायरल वीडियो छेड़खानी कर तैयार किया गया है। 
  • तुर्की की फैक्ट चेकिंग वेबसाइट Teyit भी इस वीडियो का इन्वेस्टिगेशन कर चुकी है। जांच में सामने आया था कि, वायरल फुटेज को ईरान के कुर्दिस्तान में शूट किया गया है, क्योंकि क्लिप के आखिरी में सुनाई दे रही भाषा सोरानी है, जो एक कुर्द भाषा है।
  • लुप्पो कोकोनट क्रीम बार का निर्माण करने वाली तुर्की की कंपनी Sölen के प्रवक्ता ने snopes को कंफर्म किया कि यह प्रोडक्ट सिर्फ ईराक में बेचा जाता है।
  • इससे सोशल मीडिया का यह दावा झूठा साबित होता है कि, स्नैक्स तुर्की में बनाया जाता है और यूएसए, इजरायल में एक्सपोर्ट किया जाता है। यह तुर्की में तैयार होता है और सिर्फ ईराक में बेचा जाता है। 
  • snopes ने कुछ सीनियर पत्रकारों के हवाले से लिखा है कि तुर्की-कुर्दों के बीच चल रहे संघर्ष के कारण इस तुर्की ब्रांड की इमेज खराब करने के चलते यह वीडियो वायलर किया गया है। निर्माण कंपनी Solen ने इस वीडियो को झूठा और निराधार करार दिया है। प्रवक्ता ने कहा कि, कंपनी इस वीडियो को वायरल करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी करने की तैयारी में है। 

निष्कर्ष : वायरल वीडियो में दी गई जानकारी का कोई प्रमाण नहीं दिया गया। ये भी संभव है कि वीडियो बनाने वाले शख्स ने ही क्रीम बार में टेबलेट रखी हों। इस बात का भी कोई प्रमाण नहीं है कि, वीडियो में नजर आ रही चीज टेबलेट और इससे लकवा होता है। वहीं यह क्रीम बार ईराक के अलावा और कहीं बेचा ही नहीं जाता। इससे स्पष्ट होता है कि वायरल दावा भ्रामक है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना