फैक्ट चेक / यूपी को तीन राज्यों में बांटने का कोई प्रस्ताव नहीं, सोशल मीडिया का दावा झूठा

No Fake News On UP Will Be Divided Into Three States
X
No Fake News On UP Will Be Divided Into Three States

  • क्या वायरल : यूपी को तीन राज्यों यूपी, बुंदेलखंड और पूर्वांचल में बांटा जा रहा है। यूपी की राजधानी लखनऊ, बुंदेलखंड की प्रयागराज और पूर्वांचल की गोरखपुर होगी
  • क्या सच : ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है। सोशल मीडिया का दावा झूठा है

दैनिक भास्कर

Sep 24, 2019, 01:24 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया में यूपी को तीन हिस्सों में बांटने का मैसेज वायरल किया जा रहा है। बाकायदा एक सूची वायरल की जा रही है। इसमें तीन राज्यों के साथ उनकी राजधानी और जिलों की जानकारी भी दी गई है। एक पाठक ने हमें पुष्टि के लिए यह वायरल पोस्ट भेजी। पड़ताल में इसकी सच्चाई सामने आई। 

 

क्या वायरल

  • यूपी तीन राज्यों में बंटेगा। एक राज्य होगा उत्तरप्रदेश। दूसरा बुंदेलखंड और तीसरा पूर्वांचल। 
  • राज्य बंटवारे की एक सूची भी सोशल मीडिया में वायरल की जा रही है। 
  • कई यूजर्स ने ट्विटर, फेसबुक पर इसे शेयर किया है। 
सोशल मीडिया में वायरल तस्वीर।

 

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल में हमें यूपी के बंटवारे संबंधित कोई भी विश्वसनीय रिपोर्ट नहीं मिली। यदि ऐसा कोई भी प्रस्ताव होता तो मीडिया में प्रमुखता से इस खबर को प्रचारित, प्रसारित किया जाता। 
  • यूपी को बांटने का एक प्रस्ताव वर्ष 2011 में लाया गया था। 
  • तब बीएसपी सरकार ने यूपी को बांटने का प्रस्ताव केंद्र की यूपीए सरकार को भेजा था लेकिन केंद्र सरकार ने इस प्रस्ताव को मान्य नहीं किया था। 
  • इस मामला 2013 में भी उठाया गया था। 2017 में भी मायावती द्वारा यह मुद्दा उठाया गया। 
  • यूपी सरकार के मीडिया एडवाइजर मृत्युंजय कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा कि, यूपी के विभाजन का कोई प्रस्ताव नहीं है। सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा दावा झूठा है। सरकार पूरे प्रदेश के विकास के लिए काम कर रही है। किसी भी क्षेत्र के साथ भेदभाव नहीं किया जा रहा। ऐसे में इस तरह की मांगों को महत्व देना निरर्थक है। 
  • पड़ताल से स्पष्ट होता है कि सोशल मीडिया दावा झूठा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना