दावा: थाली, ताली बजाने से खत्म हो जाता है कोरोनावायरस, पीआईबी ने बताया सच

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • क्या वायरल : दावा किया जा रहा है कि बतर्न-ताली की ध्वनि से होने वाले वाइब्रेशन से कोरोनावायरस खत्म होता है
  • क्या सच : भारत सरकार के पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने बताया कि, दावा झूठा है

फैक्ट चेक डेस्क. दुनियाभर में फैल रहे कोरोनावायरस को भारत में फैलने से रोकने के लिए पीएम मोदी की अपील पर रविवार को जनता कर्फ्यू हुआ। पीएम ने लोगों से घर से बाहर न निकलने की अपील की थी, जिसका पूरा असर नजर आया। पीएम ने कोरोनावायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे लोगों का जज्बा बढ़ाने के लिए शाम 5 बजे ताली-थाली, शंख आदि बजाने की अपील भी की थी। इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया गया है कि, बर्तन बजाने से वायरस खत्म होते हैं। दावा है कि ऐसा साउंड के वाइब्रेशन के चलते होता है। जानिए इस वायरल दावे की हकीकत। 

क्या वायरल

  • ट्विटर पर एक यूजर ने लिखा कि, मोदीजी के इस प्रयास से लोग मोटिवेट और एकजुट होंगे। साथ ही थाली बजाने से जैसा हम मंदिर में करते हैं, वायरस खत्म होगा।

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल में पता चला कि वायरल दावा झूठा है। ऐसा कोई वैज्ञानिक अध्ययन सामने नहीं आया जो यह बताता हो कि एक साथ ताली/थाली बजाने से कोरोनावायरस खत्म होता है।
  • भारत सरकार के पीआईबी (पत्र सूचना कार्यालय) ने भी इस दावे को झूठा बताया है। पीआईबी ने कहा कि, ताली बजाने से कोरोनावायरस खत्म नहीं होगा।