• Hindi News
  • No fake news
  • Hyderabad Encounter | Hyderabad Police Encounter; No Fake News On Viral Tweet About Hyderabad Telangana Police Encounter वायरल ट्वीट में दावा, 1 दिसंबर को ही दे दिया गया था एनकाउंटर का आइडिया, मंत्री के पीएस ने कहा फर्जी है पोस्ट

फैक्ट चेक / दावा- 5 दिन पहले तेलंगाना के मंत्री को मिला था ऐसे ही एनकाउंटर का सुझाव, मंत्री के पीएस ने भास्कर से कहा- पोस्ट फर्जी है

Hyderabad Encounter | Hyderabad Police Encounter; No Fake News On Viral Tweet About Hyderabad Telangana Police Encounter  वायरल ट्वीट में दावा, 1 दिसंबर को ही दे दिया गया था एनकाउंटर का आइडिया, मंत्री के पीएस ने कहा फर्जी है पोस्ट
X
Hyderabad Encounter | Hyderabad Police Encounter; No Fake News On Viral Tweet About Hyderabad Telangana Police Encounter  वायरल ट्वीट में दावा, 1 दिसंबर को ही दे दिया गया था एनकाउंटर का आइडिया, मंत्री के पीएस ने कहा फर्जी है पोस्ट

  • क्या वायरल :  दो ट्वीट में दावा- गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर की ठीक वैसी ही स्क्रिप्ट 5 दिन पहले लिखी गई थी और राज्य के आईटी मंत्री केटी रामाराव को ट्वीट किया गया
  • क्या सच : जिस अकाउंट konafanculb का स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा कि ऐसा कोई ट्विटर अकाउंट मौजूद नहीं, मंत्री के एडिशनल पीएस जी श्रीनिवास ने भास्कर से बातचीत में दावे को फर्जी बताया

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2019, 02:24 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया पर एक वायरल ट्वीट में दावा किया जा रहा है कि तेलंगाना पुलिस द्वारा किए गए एनकाउंटर का आइडिया एक यूजर (konafanclub) ने 1 दिसंबर को ही तेलंगाना के मंत्री केटी रामाराव को ट्वीट कर दिया था। konafanculb के नाम से फैलाए जा रहे इस ट्वीट में लिखा है- सर, यदि आप उन्हें सजा देना चाहते हैं...तो क्राइम सीन रिकंस्ट्रक्शन के लिए उन्हें उसी स्थान पर ले जाएं, जहां डॉक्टर को जलाया गया था...मुझे भरोसा है कि वे भागने की कोशिश करेंगे...इसके बाद पुलिस के पास उन्हें शूट करने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं होगा...कृपया एक बार सोचें। पड़ताल में पता चला वायरल ट्वीट फर्जी है। 

क्या वायरल

  • इस ट्वीट को यूजर्स फेसबुक, ट्वीटर पर काफी वायरल कर रहे हैं। 
  • कई यूजर्स सवाल भी खड़े कर रहे हैं कि यह फेक है या सही। 

क्या है सच्चाई

  • वायरल ट्वीट की सच्चाई जानने के लिए हमने सबसे पहले konafanclub का ट्वीटर अकाउंट खंगाला तो पता चला कि ट्वीटर पर यह अकाउंट ही मौजूदा नहीं है। 
  • फिर हमने तेलंगाना के मंत्री KTR का आधिकारिक अकाउंट तलाशा। यहां भी हमें Konafanclub का ऐसा कोई ट्वीट नहीं मिला, जो सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा है। कई यूजर्स ने konafanclub को लेकर सवाल जरूर पूछे हैं कि यह फर्जी है या असली। 

  • खबर की पुष्टि के लिए हमने तेलंगाना के मंत्री केटी रामाराव के ऑफिस में बात की। उनके एडिशनल पीएस जी श्रीनिवास ने बताया कि वायरल ट्वीट फर्जी है। इसका वास्तविकता से कोई संबंध नहीं। पीएस के मुताबिक, मंत्री से जुड़े सभी ट्वीट उनके आधिकारिक अकाउंट पर देखे जा सकते हैं। 

क्या है konafanclub

  • तेलुगू फिल्मों के प्रोड्यूसर कोना वेंकट के नाम से ही किसी ने konafanclub नाम का अकाउंट बनाया होगा। इसमें फोटो भी कोना वेंकट की लगाई गई है। हालांकि कोना वेंकट के आधिकारिक अकाउंट पर भी इससे जुड़ा कुछ उपलब्ध नहीं है।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना