फैक्ट चेक / महाराष्ट्र में हुए मर्डर को पाकिस्तानी आरएसएस के नाम से कर रहे वायरल

No Fake News, Pakistani Shared Maharashtra Murder Video In The Name Of RSS
X
No Fake News, Pakistani Shared Maharashtra Murder Video In The Name Of RSS

  • क्या वायरल : सीसीटीवी में रिकॉर्ड एक मर्डर की वीडियो क्लिप वायरल हो रही है। पाकिस्तानी दावा कर रहे हैं कि, यह मर्डर करने वाले आरएसएस के लोग हैं
  • क्या सच : वायरल वीडियो क्लिप 2017 में महाराष्ट्र में हुए एक मर्डर की है। दो प्रतिद्वंदी गैंग के बीच हुए लड़ाई में एक गैंग के 10 लोगों ने दूसरे हिस्ट्रीशीटर का मर्डर कर दिया था। आरोपी पुलिस की गिरफ्त में भी चुके हैं

दैनिक भास्कर

Nov 16, 2019, 04:09 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सीसीटीवी में रिकॉर्ड हुए एक मर्डर का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल किया जा रहा है। वायरल वीडियो में दावा किया गया है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सदस्यों ने इस मर्डर को अंजाम दिया है। एक पाकिस्तानी ने इस वीडियो को शेयर करते हुए आरएसएस से इसका कनेक्शन बताया है। जानिए इस वायरल वीडियो की हकीकत। 

 

क्या वायरल

  • ट्वीटर पर इस वीडियो को शेयर करते हुए यूजर ने लिखा कि ' यह भारत में हिंदू आतंकवादी संगठन का आरएसएस आतंकवादी है, जो खुलेआम मुस्लिमों को जानवरों की तरह मानता है'

 

  • इस वीडियो को अगस्त 2018 में भी एक यूजर अरबीला खान द्वारा ट्वीट किया गया था। 

क्या है सच्चाई

  • गूगल पर सर्च करने के दौरान हमे 22 जुलाई 2017 को द हिंदू में प्रकाशित एक आर्टिकल मिला। रफीकुद्दीन शेख नाम के व्यक्ति को 18 जुलाई 2017 को एक चाय टी स्टाल पर प्रतिद्वंदी गैंग के सदस्यों द्वारा कथित तौर पर मौत के घाट उतार दिया गया था।
  • इस मामले में धुले पुलिस ने पुणे में सागर साहेबराव उर्फ कलती को गिरफ्तार किया था।
  • डेली पायोनियर की 21 जुलाई 2017 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, रफीकुद्दीन शेख उर्फ गुड्‌डया एक हिस्ट्री शीटर था, जिस पर 30 से भी ज्यादा संगीन अपराध हत्या, हत्या की कोशिश, अपहरण, रेप आदि पंजीबद्ध थे, सुबह की सैर के बाद एक चाय की दुकान पर चाय पी रहा था, तभी प्रतिद्वंदी गैंग के 10 सदस्यों ने उस पर हमला कर दिया।  जांच में 10 में से 7 गैंगस्टर क्राइम में शामिल पाए गए।
  • अगस्त 2017 में दैनिक भास्कर में प्रकाशित आर्टिकल के मुताबिक, इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी विक्की गोयर भी गिरफ्त में आ गया था। पुलिस ने इस मामले में 15 लोगों को गिरफ्तार किया था।
  • मराठी चैनल जी24 ने भी इस विजुअल को प्रसारित किया था।

 

  • पड़ताल से स्पष्ट है कि महाराष्ट्र में हुए मर्डर को आरएसएस के नाम से प्रचारित-प्रसारित किया जा रहा है, जबकि आरएसएस से इससे कोई लेनादेना नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना