फेक न्यूज एक्सपोज:पीएम मोदी ने देश में पहली मेट्रो शुरू करने का श्रेय अटलजी को दिया? जानिए, इस दावे में कितनी सच्चाई है

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि देश में पहली मेट्रो की शुरुआत अटल बिहारी वाजपेयी जी ने की थी। यह बात पीएम नरेंद्र मोदी ने 28 दिसम्बर को दिल्ली में ड्राइवरलेस मेट्रो के उद्घाटन में कही है।

और सच क्या है?

  • वायरल हो रही पोस्ट में कितनी सच्चाई है, इसे जानने के लिए हमनें वो पीएम मोदी का वो भाषण पढ़ा जो उन्होंने 28 दिसम्बर को दिल्ली में ड्राइवरलेस मेट्रो के उद्घाटन के दौरान दिया था।
  • पीएम मोदी की स्पीच में देश की पहली मेट्रो नहीं, दिल्ली की पहली मेट्रो का जिक्र था। PIB की ओर से जारी स्पीच के मुताबिक, उन्होंने कहा था, कई सालों तक दिल्ली में मेट्रो की चर्चा हुई थी, लेकिन दिल्ली में पहली मेट्रो वाजपेयी जी के प्रयासों के कारण चली।
  • अब जानते हैं, इस झूठ की शुरुआत हुई कहां से। 28 दिसम्बर को उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी के बयान को न्यूज एजेंसी ANI ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। कई न्यूज चैनल्स ने भी सोशल मीडिया पर गलत बयान पोस्ट किया।
  • ANI ने अपनी पोस्ट में 'दिल्ली' की जगह गलती से 'देश' शब्द लिखा। लाइन कुछ यूं थी, देश में पहली मेट्रो अटल जी के प्रयासों से शुरू हुई थी। गलती पता चलने पर ANI ने पोस्ट में करेक्शन किया और दोबारा सोशल मीडिया पर दोबारा पोस्ट किया।
  • PIB की ओर से जारी भाषण से भी पुष्टि होती है कि पीएम मोदी ने मेट्रो का जिक्र दिल्ली के लिए किया था, न कि देश के लिए। इसलिए यह दावा झूठा है।
  • देश में पहली मेट्रो रेल की शुरुआत कोलकाता में हुई थी। 29 दिसम्बर, 1972 में इस प्रोजेक्ट की नींव तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने रखी थी। 24 अक्टूबर, 1984 को देश की पहली मेट्रो ने 3.4 किमी की दूरी तय की।