• Hindi News
  • No fake news
  • Rani Kamalapati Was The 7th Begum Of The Muslim King Nizam Shah; This Is Fake News, Know Its Truth

फेक न्यूज एक्सपोज:हबीबगंज स्टेशन का नाम जिस रानी के नाम पर रखा वो थीं मुस्लिम राजा की 7वीं पत्नी; ये फेक न्यूज है, जानिए सच्चाई

14 दिन पहलेलेखक: हितेश तिवारी

क्या हो रहा है वायरल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भोपाल में 100 करोड़ की लागत से बने रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (पहले हबीबगंज) का लोकार्पण किया था। अब सोशल मीडिया पर रानी कमलापति को लेकर एक पोस्ट वायरल हो रहा है।

पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि रानी कमलापति के पति निजाम शाह एक मुस्लिम राजा थे। वहीं, रानी कमलापति उनकी 7वीं बेगम थीं।

और सच क्या है?

  • वायरल पोस्ट का सच जानने के लिए हमने 'चौथा पड़ाव' किताब के लेखक और वरिष्ठ पत्रकार विजयदत्त श्रीधर से संपर्क किया।
  • विजयदत्त श्रीधर ने हमें बताया कि निजाम शाह गिन्नौरगढ़ राज्य के 16वीं सदी के राजा सूराज सिंह शाह (सलाम) के बेटे थे। निजाम शाह एक निडर और साहसी गोंड राजा थे।
  • श्रीधर ने आगे बताया कि रानी कमलापति और निजामशाह के बेटे का नाम नवल शाह था। ये दावा पूरी तरह गलत है कि निजाम शाह एक मुस्लिम राजा थे।
  • पड़ताल के अगले चरण में हमने ​​​​​शोधकर्ता और 'भोपाल नामा' किताब के लेखक वर्तुल सिंह से संपर्क किया।
  • वर्तुल सिंह ने भास्कर को बताया कि सोशल मीडिया पर निजाम शाह के साथ किया जा रहा दावा गलत है। इसमें कोई शक नहीं है कि निजाम शाह एक गोंड राजा थे।
  • वर्तुल सिंह ने आगे बताया कि निजाम शाह ने अपने शासनकाल में गोंड साम्राज्य का विस्तार किया था। वहीं, रानी कमलापति उनकी एकमात्र पत्नी थीं।
  • पड़ताल के दौरान हमें मध्य प्रदेश के जनसंपर्क विभाग के सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्ट भी मिला। इस पोस्ट में भी रानी कमलापति के पति निजाम शाह को गोंड राजा बताया गया है।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा गलत है। रानी कमलापति के पति निजाम शाह एक गोंड राजा थे। वहीं, रानी कमलापति उनकी एकमात्र पत्नी थीं।
खबरें और भी हैं...