• Hindi News
  • No fake news
  • Social media claims, Devendra Fadnavis in Maharashtra went to offer a sheet on the tomb, the truth came out in the investigationसोशल मीडिया का दावा, महाराष्ट्र में हार के देवेंद्र फडणवीस मजार पर चादर चढ़ाने गए, पड़ताल में सच सामने आया

फैक्ट चेक / सोशल मीडिया का दावा, महाराष्ट्र में हार के बाद देवेंद्र फडणवीस मजार पर चादर चढ़ाने गए, पड़ताल में सच सामने आया

Social media claims, Devendra Fadnavis in Maharashtra went to offer a sheet on the tomb, the truth came out in the investigationसोशल मीडिया का दावा, महाराष्ट्र में हार के देवेंद्र फडणवीस मजार पर चादर चढ़ाने गए, पड़ताल में सच सामने आया
X
Social media claims, Devendra Fadnavis in Maharashtra went to offer a sheet on the tomb, the truth came out in the investigationसोशल मीडिया का दावा, महाराष्ट्र में हार के देवेंद्र फडणवीस मजार पर चादर चढ़ाने गए, पड़ताल में सच सामने आया

  • क्या वायरल : महाराष्ट्र में हार के बाद पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मजार पर चादर चढ़ाने पहुंचे
  • क्या सच : वायरल तस्वीर वर्ष 2015 की हैं। हार के बाद फडणवीस का मजार पर जाने वाला दावा झूठा है

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 11:56 AM IST

फैक्ट चेक डेस्क. अब सोशल मीडिया पर महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से जुड़ी एक खबर वायरल की जा रही है। इसमें फडणवीस मुस्लिम समुदाय के बीच किसी मजार में खड़े नजर आ रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि 'महाराष्ट्र में हारने के बाद पूर्व बीजेपी मुख्यमंत्री फडणवीस मजार चादर चढ़ाने पहुंचे'। दैनिक भास्कर मोबाइल ऐप के एक पाठक ने हमें यह फोटो सत्यता की पुष्टि के लिए भेजी। पड़ताल में पता चला कि यह फोटो अभी की नहीं बल्कि पुरानी है। 

क्या वायरल

  • फेसबुक पर यूजर्स इन फोटोज को शेयर कर रहे हैं। 

क्या सच

  • गूगल पर इस फोटो को रिवर्स सर्च करने पर हमें इससे जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स मिल गईं। 
  • इंडियन एक्सप्रेस की 6 जनवरी 2015 को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, दाऊदी बोहरा समुदाय के धर्मगुरु डॉक्टर सैयदना मोहम्मद बुरहानुद्दीन की पहली बरसी के मौके पर तत्कालीन सीएम फडणवीस मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में पहुंचे थे।
  • इस दौरान फडणवीस ने दाऊदी बोहरा समाज के प्रमुख सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से भी मुलाकात की थी।
  • सोशल मीडिया में फडणवीस की 2015 वाली फोटोज ही वायरल की जा रही है। 
  • खुद फडणवीस ने ट्वीट कर भी इस बारे में जानकारी दी थी। 

निष्कर्ष : 2015 की फोटो अब गलत जानकारी के साथ वायरल की जा रही हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना