फैक्ट चेक / इंडोनेशिया का है प्रदर्शनकारियों को हटाने वाला वीडियो, कश्मीर का बताकर किया जा रहा वायरल



No Fake Kashmir News: Tear Gas Fake Viral Video From Indonesia's JakartaNot From Kashmir
X
No Fake Kashmir News: Tear Gas Fake Viral Video From Indonesia's JakartaNot From Kashmir

  • क्या वायरल : एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें पुलिस प्रदर्शनकारियों को भगाती नजर आ रही है। इसे कश्मीर का बताया जा रहा है
  • क्या सच : यह वीडियो जकार्ता, इंडोनेशिया का है। इसका कश्मीर से कुछ लेनादेना नहीं

Dainik Bhaskar

Oct 15, 2019, 06:52 PM IST

फैक्ट चेक डेस्क. सोशल मीडिया में कश्मीर से जुड़ा एक फर्जी वीडियो वायरल हो रहा है। बीबीसी न्यूज कश्मीर नाम के फेसबुक पेज पर इस वीडियो को 6 अक्टूबर को शेयर किया गया। इसमें कुछ लोग प्रदर्शन करते नजर आ रहे हैं, जिन्हें पुलिस आंसू गैस से भगाती नजर आ रही है। इस वीडियो को कश्मीर का बताकर शेयर किया जा रहा है। एक पाठक ने हमें यह वीडियो पुष्टि के लिए भेजा। पड़ताल में पता चला कि यह वीडियो कश्मीर का नहीं बल्कि जकार्ता का है। जानिए इसकी पूरी हकीकत। 

 

क्या वायरल

  • 'बीबीसी न्यूज कश्मीर' नाम के फेसबुक पेज पर यह वीडियो शेयर किया गया। इसमें लिखा है कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए आंसू गैस का उपयोग किया। 
वीडियो सोशल मीडिया में कश्मीर के नाम से वायरल किया जा रहा है।

 

  • वायरल वीडियो में बीबीसी के लोगो का इस्तेमाल किया गया है। 

क्या है सच्चाई

  • पड़ताल में पता चला कि सोशल मीडिया का दावा झूठा है। वायरल वीडियो कश्मीर नहीं बल्कि जकार्ता (इंडोनेशिया) का है। इसमें बीबीसी न्यूज कश्मीर का जो लोगो लगाया गया है वो फोटोशॉप्ड है। 
  • 3 मिनट लंबे वीडियो की पहली फ्रेम में पुलिस जवानों का समूह नजर आता है। जवानों के हाथ में प्रोटेक्शन शील्ड्स हैं, जिन पर Polisi लिखा नजर आता है। 
वायरल वीडियो।

 

  • कुछ मिनट बाद वीडियो में एक व्यक्ति नजर आता है, जिसके हाथ में लाल और सफेद रंग वाला झंडा है। पड़ताल में पता चला कि यह इंडोनेशिया का झंडा है। 
वायरल वीडियो में एक व्यक्ति इंडोनेशिया का झंडा अपने हाथों में पकड़े नजर आ रहा है।

 

  • कीवर्ड्स सर्च से हमें यूट्यूब पर वो वीडियो भी मिल गया, जिसे कश्मीर के नाम से वायरल किया जा रहा है। इसे रसियन इंटरनेशनल टेलीविजन नेटवर्क द्वारा 1 अक्टूबर 2019 को अपलोड किया गया था। इसमें लिखा था कि इंडोनेशिया में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया। 

 

  • इस घटना को इंटरनेशनल मीडिया द्वारा भी प्रमुखता से कवर किया गया था। 
  • पड़ताल से स्पष्ट होता है कि वीडियो को कश्मीर का बताकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश की जा रही है। वास्तव में वीडियो इंडोनेशिया का है।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना