• Hindi News
  • No fake news
  • Video Of Feeding A Girl With Intoxicants Mixed With Cake Goes Viral With Communal Color; Is This Fake? Know The Truth

फेक न्यूज एक्सपोज:केक में नशीला पदार्थ मिलाकर लड़की को खिलाने का वीडियो सांप्रदायिक एंगल से वायरल; क्या यह फेक है? जानिए सच

6 महीने पहले

क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर बर्थ-डे सेलिब्रेशन का एक CCTV फुटेज सांप्रदायिक रंग देकर वायरल किया जा रहा है। इस फुटेज में 4 लड़के और दो लड़कियों का एक ग्रुप बर्थ-डे सेलिब्रेट करते हुए दिख रहा है। फुटेज की शुरुआत में देखा जा सकता है कि टेबल पर रखे केक पर एक लड़का नशीला पदार्थ डाल रहा है। वहीं, 3 लड़के उन दोनों लड़कियों का ध्यान भटका रहे हैं।

इसके बाद एक लड़की बर्थ-डे केक काटती है और उनमें से एक लड़के को केक खिलाने की पहल करती है। लेकिन वह लड़का केक खाने से मना कर देता है। इसके बाद वह लड़की साथ खड़ी दूसरी लड़की को केक खिलाती है और देखते ही देखते दोनों लड़कियां बेहोश हो जाती हैं। इसके बाद चारों लड़के उन दोनों लड़कियों को घर के अंदर ले जाते हैं।

दावा किया जा रहा है कि CCTV फुटेज में दिख रहे चारों लड़के मुस्लिम और लड़कियां हिंदू हैं। वीडियो शेयर कर यूजर्स ने चेतावनी देते हुए लिखा- ये मुल्ले आपके दोस्त हैं तो देख लो जिहाद कैसे करते हैं। बेहोश करके सेक्स क्लिप निकालते हैं, फिर आपको सेक्स स्लेवरी बनाते हैं और धर्म परिवर्तन कराते हैं।

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने वीडियो के की-फ्रेम को गूगल पर रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें ये वीडियो जानकारी के साथ संजना गलरानी के सोशल मीडिया अकाउंट पर मिला।
  • वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा है- सावधान रहें, देखने के लिए धन्यवाद। कृपया ध्यान रखें कि इस पेज में स्क्रिप्टेड ड्रामा और पैरोडी भी हैं। ये शॉर्ट फिल्में केवल मनोरंजन और केवल लोगों को जागरूक करने के लिए हैं।
  • पड़ताल के दौरान हमने संजना गलरानी के सोशल मीडिया अकाउंट को भी चेक किया। चेक करने पर हमें पता चला कि संजना एक्टर हैं और वे अक्सर लोगों को जागरूक करने के लिए स्क्रिप्टेड ड्रामा शॉर्ट फिल्म शेयर करती हैं।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे CCTV फुटेज के साथ किया जा रहा दावा गलत है। ये स्क्रिप्टेड ड्रामा शॉर्ट फिल्म है, जो लोगों को जागरूक करने के लिए बनाई गई थी।