• Hindi News
  • No fake news
  • When Akhilesh Yadav Went To Meet The Victim's Family, Did He Take The Sofa With Him To Sit? Know The Truth Of This Claim

फेक न्यूज एक्सपोज:अखिलेश यादव पीड़ित परिवार से मिलने गए तो बैठने के लिए सोफा साथ ले गए? जानिए इस दावे का सच

8 महीने पहले

क्या हो रहा है वायरल: सोशल मीडिया पर यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (SP) के अध्यक्ष अखिलेश यादव के ट्वीट की एक फोटो वायरल हो रही है। फोटो में अखिलेश यादव सोफे पर बैठे एक शख्स से बात करते दिख रहे हैं। वहीं, उनके पीछे की बिना प्लास्टर, पुताई की बेरंग दिवारें नजर आ रही हैं।

इस फोटो को शेयर कर कई यूजर्स ने दावा किया है कि अखिलेश यादव गरीब परिवार से मिलने उनके घर तो गए, लेकिन अपनी सुविधा के लिए सोफा भी साथ ले गए।

भाजपा नेता स्वतंत्र देव सिंह ने अखिलेश यादव की फोटो शेयर कर लिखा, समाजवाद की बात करने वाले यूपी के शहज़ादे जहां जाते है अपना सोफा साथ लेकर जाते है।

कांग्रेस नेता श्रीनिवास ने लिखा, जिस घर की दीवारों पर प्लास्टर भी नही है, वहां नेता जी के लिए आरामदायक सोफा कहाँ से आया?

इसी दावे के साथ ये फोटो फेसबुक पर भी जमकर वायरल किया जा रहा है।

और सच क्या है?

  • पड़ताल के शुरुआत में हमने इस फोटो को गूगल पर रिवर्स सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें ये फोटो अखिलेश यादव के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर एक पोस्ट में मिली।
  • अखिलेश यादव ने 3 नवंबर, 2021 को फोटो शेयर कर पोस्ट में लिखा, इटावा के जिस गाँव में मुख्यमंत्री जी ने महामारी में ‘दिखावटी कोविड पर्यटन’ करके सभी मेडिकल व्यवस्थाओं के सही होने का झूठा दावा किया था, आज यहाँ आकर उसकी कलई खुलते देखी। यहाँ का एक गाँव डेंगू से बुरी तरह प्रभावित है और कई मौतें भी हो चुकी हैं।
  • अखिलेश यादव की इस फोटो के साथ किए जा रहे दावे का सच जानने के लिए हमने इससे जुड़े की-वर्ड्स गूगल पर सर्च किए। सर्च रिजल्ट में हमें इस मामले से जुड़ी खबर आजतक समेत कई न्यूज वेबसाइट पर मिली।
  • मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अखिलेश यादव 3 नवंबर को इटावा की सैफई तहसील के गीजा गांव में मुकेश बाथम के परिवार से मिलने पहुंचे थे। मुकेश के 5 बेटे हैं, जिसमें 4 नंबर के बेटे की पिछले दिनों डेंगू से मौत हो गई थी।
  • मुकेश बाथम ने मीडिया को बताया कि उनके दो बेटों की शादी पिछले 4 महीने के अंदर हुई। इसमें एक चौथे नंबर के बेटे की डेंगू से मौत हो गई, अखिलेश यादव जिस सोफे पर बैठे थे, वो सोफा भी मृतक बेटे की शादी में तोहफे में मिला था।
  • पड़ताल के अगले चरण में हमने समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता मनोज सिंह काका से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि अखिलेश यादव जी जिस सोफे पर बैठे थे, वो सोफा स्वंय जिस लड़के की डेंगू से मौत हुई, उसकी शादी में मिले तोहफे का है। भाजपा ने सोफा तो देखा लेकिन उन्हें पीड़ित परिवार का दर्द नहीं दिखा।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर अखिलेश यादव की फोटो के साथ किया जा रहा दावा गलत है। वायरल फोटो में अखिलेश यादव जिस सोफे पर बैठे दिख रहे हैं, वो सोफा पीड़ित परिवार का ही है।