पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Company Eyeing On CEO They Are Resigning If Not Working Well Many Cases Reported

कई कंपनियों के सीईओ को नाकामी के कारण जाना पड़ा, निवेशकों की अब कामकाज पर पैनी निगाह

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • वीवर्क, ईबे के प्रमुखों को कमजोरी भारी पड़ी, फॉक्सवैगन सीईओ के खिलाफ मामला दर्ज
Advertisement
Advertisement

डेविड गेलेस
पिछले सप्ताह कुछ बड़ी कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों की विदाई से एकदम साफ हो गया है कि उनके टिके रहने की पहली शर्त बेहतर कामकाज ही है। उन्हें सिर्फ आदर्शवाद की बजाय कंपनी के मुनाफे और नुकसान पर अधिक ध्यान देना होगा। पिछले सप्ताह तीन ऐसे बड़े अधिकारियों को मुश्किल हालात का सामना करना पड़ा है जिन्हें दुनिया बदलने, जलवायु परिवर्तन पर जोर देने जैसी बातों के लिए जाना जाता था। कंपनी को शेयर मार्केट में लाने का विफल प्रयास करने के बाद एडम न्यूमैन ने वीवर्क के चीफ एक्जीक्यूटिव पद से इस्तीफा दिया है। कंपनी के बोर्ड द्वारा कामकाज पर असंतोष जताने के बाद डेविंग वेनिग ने ईबे के प्रमुख का पद छोड़ा है। फॉक्सवैगन के चीफ एक्जीक्यूटिव हरबर्ट डिएस के खिलाफ निवेशकों को गुमराह करने के लिए मामला दर्ज किया गया है। हालांकि, डिएस पद पर बने हुए हैं।
इन तीन सीईओ के अलावा कुछ समय पहले ही जुल, निसान, कॉमस्कोर और एचएसबीसी के प्रमुखों को पद से हटना पड़ा है। बेहतर नतीजे देने की प्रमुख शर्त की अभी हाल के वर्षों में अनदेखी होने लगी थी। बिजनेस की दुनिया की सामाजिक और राजनीतिक बहस में अधिक हिस्सेदारी के कारण कई सीईओ को विश्वास हो गया कि अब केवल लाभ और हानि का गणित ही उनका मुख्य काम नहीं है। इसकी बजाय वे कर्मचारियों को प्रेरित करने, जलवायु परिवर्तन से निपटने और नैतिक मसलों पर राय देने लगे।
डोनाल्ड ट्रम्प के अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद गूगल, माइक्रोसॉफ्ट और कुछ अन्य कंपनियों ने विदेशियों के देश में आने पर ट्रम्प की नीति का विरोध किया था। वालमार्ट ने हथियारों की बिक्री नियंत्रित करने की मांग उठाई है। कुछ समय पहले ऐसा करना आसान था क्योंकि शेयर बाजार उफान पर था। वेंचर कैपिटल बड़े पैमाने पर आ रही थी। लेकिन, आज स्थिति बदल गई है। स्टॉक मार्केट लड़खड़ा रहा है। जिन स्टार्ट अप का मूल्य बहुत ऊंचा आंका गया था, उन पर इन्वेस्टर की टेढ़ी नजर है। वीवर्क के न्यूमैन को इसका अहसास जल्द हो गया। उसके आईपीओ पर चर्चा के बीच इन्वेस्टरों ने कंपनी का मूल्य 15 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान लगाया था। जनवरी में उसका मूल्य 47 अरब डॉलर बताया जा रहा था। वी वर्क का प्रॉस्पेक्टस उसकी भावनात्मक बातों के कारण इन्वेस्टरों के बीच उपहास का विषय बन गया।
एक अन्य कंपनी पेलोटोन अपने प्रेरक नारों और मुनाफा ना होने के कारण चर्चा का विषय है। इंटरनेट से जुड़ी साइकिल निर्माता फार्म पेलोटोन दुनियाभर में लोगों का जीवन बदलने वाली इनोवेशन कंपनी होने का दावा करती है। उसे पिछले साल 19 करोड़ डॉलर से अधिक नुकसान हुआ है। पेलोटोन ने गुरुवार को ट्रेडिंग शुरू की और उसके शेयरों के मूल्य 11% गिर गए।
© The New York Times

Advertisement

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement