संपादकीय / रिजर्व बैंक के संतुलित और सधे हुए कदम ने दी राहत



Bhaskar Editorial on RBI step
X
Bhaskar Editorial on RBI step

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2019, 11:16 PM IST

भारतीय रिजर्व बैंक ने उम्मीद के मुताबिक रेपो रेट में 25 बेसिस पॉइंट की कटौती करके विकास को प्राथमिकता देने की पहल की है, क्योंकि महंगाई दरें काबू में हैं। जनवरी से मार्च तक खुदरा महंगाई दर 2.4 प्रतिशत आंकी गई है और अप्रैल से सितंबर के बीच इसके 3.4 प्रतिशत होने का अनुमान है। इस स्थिति ने केंद्रीय बैंक को यह आत्मविश्वास दिया कि वह महंगाई काबू करने की कड़ाई वाली नीति से तटस्थता की नीति पर लौट सके।

 

इससे पहले सरकार और केंद्रीय बैंक के बीच इस बात पर टकराव होता रहता था कि दरें घटाईं जाएं या नहीं। यह टकराव पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और उर्जित पटेल के कार्यकाल में होता रहा है। आमतौर पर केंद्रीय मंत्री रिजर्व बैंक गवर्नर के कठोर रवैए से नाराज हो जाया करते थे, जबकि बैंक के प्रमुख का सारा जोर महंगाई काबू में रखने पर होता था। इस बार एमपीसी के दो सदस्यों विरल आचार्य और चेतन घेटे ने रेपो दरें घटाए जाने के विरुद्ध मतदान किया। जबकि गवर्नर शक्तिकांत दास ने इसके पक्ष में वोट दिया।

 

दास के आने के साथ ही यह कहा जाने लगा था कि अब सरकार और बैंक के रिश्ते अच्छे होंगे। वह दिखाई भी पड़ने लगा है। रिजर्व बैंक के विमर्श में विकास शब्द लौट आया है और चुनाव से ठीक पहले सरकार को ऐसी ही अपेक्षा थी। निश्चित तौर पर अंतरिम बजट में राहत पाया मध्य वर्ग चाहेगा कि उसे और भी राहत मिले और उसे अच्छे दिन का अहसास हो। रिजर्व बैंक के इस कदम से मकान के कर्ज की ईएमआई घटेगी, गाड़ियों पर कर्ज सस्ता होगा और कर्ज लेने वालों को दूसरी सुविधाएं भी हासिल होंगी।

 

किसानों की कर्ज की सीमा 60,000 बढ़ने के साथ ही नान बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों (एनबीएफसी) के संकट का भी ध्यान रखने की बात गवर्नर ने कही है। फरवरी के अंत तक एनबीएफसी के नियम भी बदल दिए जाएंगे तो उनका संकट भी कम होगा। हालांकि दरों में कोई बड़ी कटौती नहीं कही जाएगी फिर भी रियल एस्टेट में इससे राहत और तेजी भी महसूस की जाएगी। बैंक की इस कटौती का वित्तीय क्षेत्र के विशेषज्ञों ने स्वागत किया है। इसे देखकर यही कहा जा सकता है कि इसका असर पड़ेगा लेकिन, धीरे-धीरे। विकास की रफ्तार अच्छी है और आगे उसके कायम रहने की उम्मीद है। इसलिए रिजर्व बैंक के इस कदम को एक संतुलित और सधा हुआ कदम माना जा सकता है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना