• Hindi News
  • Opinion
  • N. Raghuraman's Column Now Is The Time For Virtual Entertainment For Children Of All Ages, So If You Want To Earn Profit, Then Immediately Come To The Virtual World

एन. रघुरामन का कॉलम:अब सभी उम्र के बच्चों के लिए वर्चुअल मनोरंजन का समय, इसलिए मुनाफा कमाना हो तो तुरंत वर्चुअल दुनिया में आइए

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एन. रघुरामन, मैनेजमेंट गुरु - Dainik Bhaskar
एन. रघुरामन, मैनेजमेंट गुरु

हाल ही में जब मैंने अपने सबसे पसंदीदा तीन खिलौनों में से एक डबल डेकर बस के बारे में लिखा था, जिन्हें मैंने दशकों सहेजा, तो कोई पाठकों ने मुझसे पूछा कि बाकी दो खिलौने कौन-से थे। ये पत्र इस शनिवार को याद आए, जब मैंने इसिगाई आइडल (Isegye Idol) के बारे में सुना, लड़कियों का यह वर्चुअल ग्रुप म्यूजिक चार्ट में टॉप पर पहुंचा है, इससे पहले कोई भी वर्चुअल ग्रुप यहां नहीं पहुंचा था।

कोरिया में एक ऑनलाइन पर्सनैलिटी ने अगस्त 2021 में इसे बनाया था, जो खुद को वूवाकगुड (Woowakgood) कहता है, जो कि यू-ट्यूब व और ट्विच पर गेम खेलते हुए खुद को लाइव स्ट्रीम करता है। इसने इकलौते गीत ‘रिवाइंड’ के साथ दिसंबर 2021 में पदार्पण किया था, जो कि स्थानीय म्यूजिक चार्ट में नंबर वन पर पहुंच गया था। इसिगाई आइडल के सदस्य पूरी तरह वर्चुअल नहीं हैं। उन मेटावर्स पिक्सल्स के पीछे इंसानी प्रतिभा छिपी है।

वूवाकगुड ऑडिशंस को अपने यू-ट्यूब व ट्विच चैनल पर पोस्ट करता है और प्रशंसकों को वोटिंग की इजाजत देता है ताकि अंतिम सदस्य चुन सकें। हां, खिलौनों से खेलना छोटे बच्चों के लिए जीवन से जुड़े अनुभवों का प्रशिक्षण देने के लिए मनोरंजक साधन हो सकता है, पर बच्चों का मनोरंजन पीढ़ी दर पीढ़ी बदल रहा है। उन दिनों मेरे अंकल ने सिखाया था कि मेरे पास मौजूद खिलौनों के बारे में सबकुछ जानूं, जैसे उसे कौन लाया, किसने आविष्कार किया, कहां बना और क्या कीमत थी।

यहां तक कि अधिकांश खिलौनों के बारे में पहली जानकारी उन्होंने ही जुटाई थी, जिससे मुझे भी ऐसा करने की प्रेरणा मिली। मेरे पास हद से ज्यादा जानकारी होने के कारण ‘मि. पोटेटो हैड’ मेरा दूसरा सबसे पसंदीदा खिलौना था। पूरे परिवार में पहली बार अमेरिका जाने वाले मेरे अंकल इसे लाए थे। ‘मि. पोटेटो हैड’ को अमेरिका के जॉर्ज लर्नर ने 1 मई 1952 को लॉन्च (जन्मा) किया था और इसकी कीमत 1 डॉलर से कम थी।

पहले ही साल दस लाख से ज्यादा खिलौने बिके और इसके निर्माता हैसब्रो का दावा है कि 70 साल बाद भी ये सबसे ज्यादा बिकने वाले खिलौने में से एक है। तीसरा चहेता खिलौना ‘टैडी बियर’ था और मेरी बेटी भी उसे उतना ही चाहती थी। इसका नाम अमेरिकी राष्ट्रपति थियोडोर ‘टेडी’ रूजवेल्ट के नाम पर पड़ा। शिकार करने गए टेडी ने बंधे भालू के बच्चे का शिकार करने से इंकार कर दिया था।

हमारी पीढ़ी से उलट मेरी बेटी की पीढ़ी खिलौनों में रचनात्मकता चाहती है और ताज्जुब नहीं कि उसे लेगो ब्लॉक व रूबिक क्यूब पसंद हैं। लेगो को डेनमार्क के ब्लॉक बनाने वाले दिग्गज व रूबिक क्यूब का हंगरी के एरनो रूबिक ने 1974 में आविष्कार किया था, वे शुरुआत में इसे मैजिक क्यूब कहते थे। पर मुझे चौंकाता है कि वही पीढ़ी जिसे ब्लॉक्स-क्यूब पसंद थे, अब उसे वर्चुअल खिलौने पसंद आने लगे हैं! आजकल कई वर्चुअल ग्रुप बन रहे हैं।

वर्चुअल अवतारों की सीरीज़ देखकर लोग अगले ट्रेंडिंग सेलिब्रिटीज़ चुन रहे हैं। सबसे ज्यादा चर्चित ग्रुप है इसिगाई आइडल! और चहेते पात्र के लिए वोट करके बच्चे खुद को सशक्त महसूस कर रहे हैं! छह सदस्यीय इसिगाई आइडल की सफलता दिखाती है कि साइबर सेलिब्रिटी का समय आ गया है और मेटावर्स, मनोरंजन की दुनिया में सबसे सफल साबित हो सकता है। कोरिया की मनोरंजन कंपनी जैसे SM, JYP, YG और HYBE न केवल मेटावर्स की दुनिया में निवेश कर रहे हैं, बल्कि अरबों डॉलर का मुनाफा भी कमाया है।

फंडा यह है कि अब न सिर्फ बड़े बच्चों के लिए बल्कि सभी उम्र के बच्चों के लिए वर्चुअल मनोरंजन का समय आ गया है। इसलिए मुनाफा कमाना चाहते हैं, तो तुरंत वर्चुअल दुनिया में आइए।