पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पं. विजयशंकर मेहता का कॉलम:हमें समझना होगा, जीवन के जिस रास्ते पर चल रहे हैं वह आखिर जाता कहां है ?

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पं. विजयशंकर मेहता - Dainik Bhaskar
पं. विजयशंकर मेहता

हर रास्ते की अपनी मंजिल होती है। मतलब वह कहीं न कहीं खत्म जरूर होता है। इन्सान का जीवन एक सफर है। जब हम इस सफर पर निकलते हैं तो 4 रास्ते मिलेंगे। पहला रास्ता होता है दुख की ओर जाने वाला। दूसरा रास्ता सुख की ओर ले जाता है। तीसरे की मंज़िल आत्मा होती है और चौथा रास्ता परमात्मा तक पहुंचाता है।

अधिकांश लोग जिस रास्ते पर चल रहे होते हैं, जीवनभर नहीं जान पाते यह रास्ता ले कहां जाएगा। इस मामले में जागरूक रहिए कि जीवन के जिस भी रास्ते पर चल रहे हैं, वह जाता कहां है और यदि जान जाएं तो सही राह चुन लीजिए। हर सुबह हम एक चौराहे पर खड़े होते हैं और तय करना होता है आज हमारा रास्ता, हमारी मंजिल क्या होगी।

हर रास्ते पर आपकी कुछ न कुछ कमाई हो जाएगी। दुख के रास्ते की कमाई का नाम नर्क है। सुख के रास्ते की कमाई स्वर्ग है। आत्मा के रास्ते से जो कमाई होगी उसका नाम आनंद है और जिस रास्ते से परमात्मा प्राप्त होगा, उसकी कमाई भी वही है। जिसने इस रास्ते पर चलकर परमात्मा कमा लिया, फिर हर मंजिल उसके कदम चूमेगी। तो हर सुबह उठकर यह जरूर तय करें कि आप जिस चौराहे पर खड़े हैं, वहां से जाना किधर है। आंखें मूंदकर बेहोशी में हर कोई रास्ता पकड़ लेने की भूल कभी मत करिएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय चुनौतीपूर्ण है। परंतु फिर भी आप अपनी योग्यता और मेहनत द्वारा हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम रहेंगे। लोग आपके कार्यों की सराहना करेंगे। भविष्य संबंधी योजनाओं को लेकर भी परिवार के साथ...

और पढ़ें