सिटी इवेंट्स

भोपाल / 155 किलो ड्राय फ्रूट और फ्रूट पल्प से बनेगा केक

X
कोर्टयार्ड बाय मैरियट में रविवार को केस मिक्सिंग सेरेमनी में होटल के रेगुलर कस्टमर्स और कोर्टयार्ड में रुके फॉरेन गेस्ट्स ने हिस्सा लिया।कोर्टयार्ड बाय मैरियट में रविवार को केस मिक्सिंग सेरेमनी में होटल के रेगुलर कस्टमर्स और कोर्टयार्ड में रुके फॉरेन गेस्ट्स ने हिस्सा लिया।
शेफ रवीश ने बताया- ढेर सारे ड्राय फ्रूट्स के साथ तैयार किए गए केक मिक्स को पांच साल तक इस्तेमाल कर सकते हैं।शेफ रवीश ने बताया- ढेर सारे ड्राय फ्रूट्स के साथ तैयार किए गए केक मिक्स को पांच साल तक इस्तेमाल कर सकते हैं।
केक मिक्सिंग सेरेमनी एक परंपरा है जिसे क्रिसमस पर्व की तैयारी की शुरुआत माना जाता है।केक मिक्सिंग सेरेमनी एक परंपरा है जिसे क्रिसमस पर्व की तैयारी की शुरुआत माना जाता है।
है। साथ ही, केक मिक्सिंग समारोह फसल के मौसम के आगमन को दर्शाता है।है। साथ ही, केक मिक्सिंग समारोह फसल के मौसम के आगमन को दर्शाता है।
यह अगली फसल तक इस आशा के साथ संचित किया जाता है कि यह अभी एक और उपयोगी साल लाएगा।यह अगली फसल तक इस आशा के साथ संचित किया जाता है कि यह अभी एक और उपयोगी साल लाएगा।
इस अवसर पर ग्रेप स्टॉम्पिंग सेरेमनी का आयोजन भी किया गया,इस अवसर पर ग्रेप स्टॉम्पिंग सेरेमनी का आयोजन भी किया गया,
जिसमें लोगों ने काले अंगूरों को पैरों से कुचला गया।जिसमें लोगों ने काले अंगूरों को पैरों से कुचला गया।
यह सेरेमनी रशिया में 5वीं शताब्दी से होती आ रही है।यह सेरेमनी रशिया में 5वीं शताब्दी से होती आ रही है।
पहले लोग यह सेरेमनी क्रिसमस के लिए वाइन बनाने के लिए करते थे।पहले लोग यह सेरेमनी क्रिसमस के लिए वाइन बनाने के लिए करते थे।
ग्रेप्स को पैरों से मसल कर उनका जूस निकालना फन एक्टिविटी होती है।ग्रेप्स को पैरों से मसल कर उनका जूस निकालना फन एक्टिविटी होती है।
ऐसे में कोर्टयार्ड में शगुन के रूप में ग्रेप स्टॉम्पिंग सेरेमनी की गई।ऐसे में कोर्टयार्ड में शगुन के रूप में ग्रेप स्टॉम्पिंग सेरेमनी की गई।
यहां 200 किलो काले अंगूरों को लोगों ने पैरों से कुचला।यहां 200 किलो काले अंगूरों को लोगों ने पैरों से कुचला।
जिसके पल्ब और जूस को बाद में गौशाला में दान कर दिया गया।जिसके पल्ब और जूस को बाद में गौशाला में दान कर दिया गया।