डीबी ओरिजिनल फोटो

राजस्थान / 100 साल पुरानी बावड़ी से पानी भरने महिलाएं एक किमी चलकर आती हैं

X
फोटो जोधपुर से 40 किमी दूर जयपुर हाईवे पर स्थित चांदेलाव गांव की है। करीब 6 हजार की आबादी वाला यह गांव पानी की किल्लत से जूझ रहा है। पेयजल के लिए गांव की महिलाएं करीब एक किमी दूर बनी 100 साल पुरानी बावड़ी ‘मास्ती बेरी’ तक पहुंचती हैं। यहां महिलाओं को घड़े में पानी भरने के लिए सीढ़ियों से 30 फीट गहराई में उतरना पड़ता है।फोटो जोधपुर से 40 किमी दूर जयपुर हाईवे पर स्थित चांदेलाव गांव की है। करीब 6 हजार की आबादी वाला यह गांव पानी की किल्लत से जूझ रहा है। पेयजल के लिए गांव की महिलाएं करीब एक किमी दूर बनी 100 साल पुरानी बावड़ी ‘मास्ती बेरी’ तक पहुंचती हैं। यहां महिलाओं को घड़े में पानी भरने के लिए सीढ़ियों से 30 फीट गहराई में उतरना पड़ता है।
COMMENT