फोटो

पंजाब / मानो पोलिंग बूथ पर नहीं, किसी शादी में आए हों

X
सजे हुए पंडाल। दूर से सुनाई दे रहे ढोल-नगाड़े पास ही लगी ठंडे-मीठे पानी की छबील, लंगर और अंदर एंटर करने से पहले चेकिंग की पूरी चौकसी। इन सबको देखकर लग रहा था, मानो किसी विरासती मेले में आ गए हों। अजी जनाब मेला ही तो है, लोकतंत्र का मेला। लुधियाना जिले के खन्ना और बाकी पंजाब के तमाम पोलिंग बूथों पर आज कुछ ऐसा ही नजारा था। कहीं गुब्बारों व फुलकारियों से गेट सजाए गए थे, कहीं सेल्फी प्वाइंट बनाए गए थे तो कहीं-कहीं वोटर्स को बाहर से रिसीव कर अंदर बूथ तक ढोल-नगाड़े के साथ ऐसे ले जाया जा रहा था, मानो कोई बारात निकल रही हो। वोटर्स को उत्साहित करने के लिए पिछले कुछ दिनों से जिस प्रकार सरकार दावे कर रही थी, ठीक उसी तरह बच्चों को संभालने के लिए मतदान केंद्रों पर आंगनवाड़ी वर्कर्स ने अस्थायी क्रैच भी बना रखे थे। देखें सुरक्षा से लेकर स्वागत तक की चुनिंदा तस्वीरें...सजे हुए पंडाल। दूर से सुनाई दे रहे ढोल-नगाड़े पास ही लगी ठंडे-मीठे पानी की छबील, लंगर और अंदर एंटर करने से पहले चेकिंग की पूरी चौकसी। इन सबको देखकर लग रहा था, मानो किसी विरासती मेले में आ गए हों। अजी जनाब मेला ही तो है, लोकतंत्र का मेला। लुधियाना जिले के खन्ना और बाकी पंजाब के तमाम पोलिंग बूथों पर आज कुछ ऐसा ही नजारा था। कहीं गुब्बारों व फुलकारियों से गेट सजाए गए थे, कहीं सेल्फी प्वाइंट बनाए गए थे तो कहीं-कहीं वोटर्स को बाहर से रिसीव कर अंदर बूथ तक ढोल-नगाड़े के साथ ऐसे ले जाया जा रहा था, मानो कोई बारात निकल रही हो। वोटर्स को उत्साहित करने के लिए पिछले कुछ दिनों से जिस प्रकार सरकार दावे कर रही थी, ठीक उसी तरह बच्चों को संभालने के लिए मतदान केंद्रों पर आंगनवाड़ी वर्कर्स ने अस्थायी क्रैच भी बना रखे थे। देखें सुरक्षा से लेकर स्वागत तक की चुनिंदा तस्वीरें...
COMMENT