न्यूज़ इन फोटो

प्रेरक पिचाई / मुझे वह खाना पसंद है जो मां अपने हाथ से बनाती है

X
दैनिक भास्कर के लिए सिद्धार्थ राजहंस से सुंदर पिचाई की बातचीत.  बीती 20 जुलाई को गूगल-अल्फाबेट के नए सीईओ सुंदर पिचाई ने अपना 47वां जन्मदिन मनाया था। इस मौके पर दैनिक भास्कर के लिए गूगल के पूर्व कर्मी और वर्तमान में यूएन में कार्यरत टेक गुरु ने उनसे बातचीत में उनकी जिंदगी और काम को समझने की कोशिश की थी। सुंदर ने उस इंटरव्यू में कहा था - मेरी जिंदगी लगभग वैसी ही है, जैसी थी- मेरे साथी, परिवार और दोस्त सभी वैसे ही हैं। हां, लोगों तक पहुंचने और उनका नेतृत्व करने की क्षमता काफी तेजी से बढ़ी है और मैं इसके प्रति कृतज्ञ हूं।  प्रस्तुत है सुंदर पिचाई की कुछ प्रेरक बातें और जीवन मूल्य -दैनिक भास्कर के लिए सिद्धार्थ राजहंस से सुंदर पिचाई की बातचीत.  बीती 20 जुलाई को गूगल-अल्फाबेट के नए सीईओ सुंदर पिचाई ने अपना 47वां जन्मदिन मनाया था। इस मौके पर दैनिक भास्कर के लिए गूगल के पूर्व कर्मी और वर्तमान में यूएन में कार्यरत टेक गुरु ने उनसे बातचीत में उनकी जिंदगी और काम को समझने की कोशिश की थी। सुंदर ने उस इंटरव्यू में कहा था - मेरी जिंदगी लगभग वैसी ही है, जैसी थी- मेरे साथी, परिवार और दोस्त सभी वैसे ही हैं। हां, लोगों तक पहुंचने और उनका नेतृत्व करने की क्षमता काफी तेजी से बढ़ी है और मैं इसके प्रति कृतज्ञ हूं। प्रस्तुत है सुंदर पिचाई की कुछ प्रेरक बातें और जीवन मूल्य -
COMMENT