न्यूज़ इन फोटो

उत्तर प्रदेश / वाराणसी में बाढ़, रोड पर धर्म-कर्म

X
कहते हैं मोक्ष की नगरी कभी ठहरती नहीं है, यह एक अविनाशी नगरी है। इन दिनों गंगा व यमुना नदी के बढ़े जलस्तर से जिले में बाढ़ की स्थिति है। काशी के सभी 80 घाट डूब गए हैं। सड़कों पर पानी भर गया है। काशीवासियों का कहना है कि, बाढ़ नहीं मां गंगा खुद उनके घरों में आ गई हैं। रोड पर ही धर्म कर्म संपन्न हो रहे हैं।कहते हैं मोक्ष की नगरी कभी ठहरती नहीं है, यह एक अविनाशी नगरी है। इन दिनों गंगा व यमुना नदी के बढ़े जलस्तर से जिले में बाढ़ की स्थिति है। काशी के सभी 80 घाट डूब गए हैं। सड़कों पर पानी भर गया है। काशीवासियों का कहना है कि, बाढ़ नहीं मां गंगा खुद उनके घरों में आ गई हैं। रोड पर ही धर्म कर्म संपन्न हो रहे हैं।
गंगा स्नान के बाद तिलक।गंगा स्नान के बाद तिलक।
घाटों पर भरा पानी।घाटों पर भरा पानी।
बाढ़ के पानी से लबालब सड़क।बाढ़ के पानी से लबालब सड़क।
घाट पर स्थित मंदिर बाढ़ के पानी में डूब गया।घाट पर स्थित मंदिर बाढ़ के पानी में डूब गया।
सड़क पर भरे पानी से गुजरना पड़ रहा है।सड़क पर भरे पानी से गुजरना पड़ रहा है।
काशी के पंडों ने रोड पर ही अपना आसन जमा लिया है।काशी के पंडों ने रोड पर ही अपना आसन जमा लिया है।
काशी के करीब 25 मोहल्लों में बाढ़ है। लोगों को नाव के सहारे रोजमर्रा की चीजों को लेने के लिए जा रहा है।काशी के करीब 25 मोहल्लों में बाढ़ है। लोगों को नाव के सहारे रोजमर्रा की चीजों को लेने के लिए जा रहा है।
पानी की टंकी आधी डूब चुकी है।पानी की टंकी आधी डूब चुकी है।
घरों में कैद लोग।घरों में कैद लोग।
COMMENT