• Home
  • Punjab News
  • Abohar
  • ऐतिहासिक इमारतों की संभाल को लेकर कैबिनेट मंत्री सिद्धू से मिले अतुल नागपाल
--Advertisement--

ऐतिहासिक इमारतों की संभाल को लेकर कैबिनेट मंत्री सिद्धू से मिले अतुल नागपाल

पंजाब सरकार के सांस्कृतिक मामले, पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग चंडीगढ़ की तरफ से विरासती दर्जा हासिल कर चुकी...

Danik Bhaskar | Mar 28, 2018, 02:05 AM IST
पंजाब सरकार के सांस्कृतिक मामले, पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग चंडीगढ़ की तरफ से विरासती दर्जा हासिल कर चुकी फाजिल्का की ऐतिहासिक इमारतों की मरम्मत और देखभाल के लिए फंड जारी करने की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व पंजाब विधान सभा में विपक्षी दल के नेता के ओएसडी अतुल नागपाल ने निकाय मंत्री नवजोत सिद्धू से भेंट की। इस मौके पर श्री नागपाल ने कैबिनेट मंत्री को बताया कि फाजिल्का की 100 वर्ष से अधिक पुरानी इमारतें रघुवर भवन, गोल कोठी और बंगला को प्राचीन एवं ऐतिहासिक स्मारकों और पुरातत्व स्थान एवं रिमेनज एक्ट, 1964 के तहत सुरक्षित इमारतें घोषित किया जा चुका है। मगर इन इमारतों को सुरक्षित घोषित करने के बाद आज तक न तो विभाग और न ही जिला प्रशासन द्वारा आगे की कोई कार्यवाही की गई है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा इन इमारतों को विरासती दर्जा दिया गया, लेकिन वह सिर्फ कागजों तक ही सीमित है। सरकार की तरफ से इनकी संभाल के लिए आज तक कोई फंड जारी नहीं किया गया। देखभाल की कमी और फंड जारी न होने के कारण यह इमारतें अब खंडहर बनती जा रही हैं। उन्होंने बताया कि अगर फाजिल्का की ऐतिहासिक धरोहरों को संभाला जाए तो फाजिल्का में पर्यटकों की संख्या में भारी इजाफा हो सकता है। जिससे सरकार की आय में भी इजाफा होगा। श्री नागपाल ने यह भी बताया कि अबोहर में विकास कार्यों के तहत चल रही अमृत योजना का कार्य सही ढंग से नहीं किया जा रहा। जिस कारण अनेक लोग इस योजना से वंचित हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि फाजिल्का-अबोहर के लोगों को कम से कम मूलभूत सुविधाओं को पूरा किया जाए और फाजिल्का व अबोहर के विकास कार्यों के लिए फंड जारी किया जाए। इस मौके पर श्री सिद्धू ने उन्हें विश्वास दिलाया कि विधानसभा का सेशन खत्म होने के बाद वह अधिकारियों से इस संबंध में बात करेंगे।

सिद्धू से मुलाकात करते अतुल नागपाल।