Hindi News »Punjab »Abohar» अबोहर में कार के आगे आया पशु, मलोट के मिमिट कॉलेज के प्राध्यापक की मौत

अबोहर में कार के आगे आया पशु, मलोट के मिमिट कॉलेज के प्राध्यापक की मौत

बेसहारा पशु के कारण शनिवार देर रात एक कार अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। दुर्घटना में मां-बाप के इकलौते पुत्र और...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 05, 2018, 02:05 AM IST

बेसहारा पशु के कारण शनिवार देर रात एक कार अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। दुर्घटना में मां-बाप के इकलौते पुत्र और पेशे से प्राध्यापक की मौत हो गई, जबकि उनके साथ सवार एक युवक बुरी तरह से जख्मी हो गया।

शव का पोस्टमार्टम करने के बाद परिजनों के हवाले कर दिया गया है। मलोट के मिमिट कॉलेज में प्राध्यापक और गांव मुरादवाला दल निवासी यादविंदर 29 पुत्र सुरेंद्र सिंह, गांव चक्क मोड़ीखेड़ा में अपने दोस्त के घर जागो कार्यक्रम में शामिल होकर अपने एक अन्य साथी हिम्मत सिंह के साथ कार में सवार होकर घर वापस जा रहा था। तभी कुंडल गांव के पास उनकी कार सामने से आ रहे एक लावारिस पशु से टकरा गई।

टक्कर के बाद उनकी कार अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। हादसे में यादविंद्र की मौके पर मौत हो गई। हिम्मत सिंह के अनुसार कार को यादविंद्र खुद चला रहा था और जब हादसा हुआ तब कार की गति कोई ज्यादा नहीं थी लेकिन जैसे ही हादसा हुआ तो उनमें घबराहट पैदा हो गई, एक बार तो कुछ पता ही नहीं चला कि हो क्या रहा है। यादविंद्र घबरा गया और एक्सीलेटर पर पैर का दबाव बढ़ गया। जिससे गाड़ी अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। जांच अधिकारी रंजीत सिंह के अनुसार हिम्मत सिंह के बयानों पर पुलिस ने धारा 174 के तहत कार्रवाई की है।

यादविंद्र सिंह की फाइल फोटो।

मलोट में सांडों की टक्कर ने तोड़े दो घरों के मेन गेट, लोगों ने भागकर बचाई जान

मलोट|जसवंत सिनेमा के बैकसाइड गुरु नानक नगरी गली नंबर 2 में तीन आवारा सांडों की अचानक हुई जबरदस्त टक्कर ने लोगों को भागने पर मजबूर कर दिया और सांडों ने दो घरों के मेन गेट तोड़ डाले। गली के लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। शाम को 6 बजे के करीब जब इन सांडों की लड़ाई हुई तो गली में भगदड़ मच गई और लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे और अपने वाहनों को बचाने के लिए सुरक्षित स्थानों पर ले जाने लगे। कुछ लोगों ने हिम्मत कर लाठियों से व पानी डाल कर इन्हें हटाने की कोशिश भी की, परंतु फिर भी सांडों ने सुखदेव सिंह ईओ व दर्शन सिंह घुडिय़ाना के घरों के बाहर लगे लोहे मैन गेटों को तोड़ दिया गया और दर्शन सिंह घुडिय़ाने के घर में खड़ी कार पर लोहे का गेट गिरने के कारण कार का काफी नुकसान हो गया और घर वालों ने भागकर अपनी जान बचाई। गुरु नानक नगरी गली नंबर दो में अचानक ही यह सांड आए दिन आपस में लड़ पड़ते हैं। गली निवासियों ने पंजाब सरकार से मांग की है कि लोगों की जान माल की सुरक्षा के लिए ठोस कदम उठाए जाएं।(जसपाल मान)

कार्यक्रम में हो गया लेट लोगों ने रोका पर नहीं माने

सड़क हादसे के समय कार में सवार मृतक के साथी हिम्मत सिंह का कहना है कि चक्क मोड़ीखेड़ा में उनके दोस्त के विवाह से एक दिन पहले जागो कार्यक्रम रखा गया था। रात को हम दोनों वहां से वापस लौटते समय काफी लेट हो चुके थे, इसलिए दोनों को काफी रोका गया कि वो वापस न जाएं। लेकिन यादविंद्र के माता-पिता एक अन्य विवाह समारोह में शामिल होने के लिए गए हुए थे और घर पर कोई नहीं था। इसलिए यादविंद्र ने घर पर वापस जाना ही जायज समझा, लेकिन उनको ये अहसास नहीं था कि इतना बड़ा हादसा हो जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Abohar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×