अबोहर

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Abohar
  • धैर्यवान व्यक्ति बड़े से बड़ा कार्य भी आसानी से कर सकता है : दिव्यानंद
--Advertisement--

धैर्यवान व्यक्ति बड़े से बड़ा कार्य भी आसानी से कर सकता है : दिव्यानंद

श्री मोहन जगदीश्वर आश्रम कनखल हरिद्वार के अनंत श्री विभूषित 1008 महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद गिरि महाराज ने...

Dainik Bhaskar

Feb 04, 2018, 03:05 AM IST
श्री मोहन जगदीश्वर आश्रम कनखल हरिद्वार के अनंत श्री विभूषित 1008 महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद गिरि महाराज ने श्रद्धालुओं को धैर्य धारण करने की प्रेरणा देते हुए कहा कि जिस मनुष्य के पास धैर्य है, वह जो भी इच्छा रखता है उसे धैर्यपूर्वक पाने का दम भी रखता है। अर्थात धैर्य में वो शक्ति है जिससे मन की हर इच्छा को पूरा किया जा सकता है। धैर्य रख कर बड़े से बड़ा कार्य आसानी से किया जा सकता है। दिव्यानंद महाराज ने ये विचार अबोहर रोड स्थित श्री मोहन जगदीश्वर दिव्य आश्रम में शुरू हुए साप्ताहिक प्रवचन कार्यक्रम के प्रथम दिन श्रद्धालुओं के विशाल जनसमूह के समक्ष व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि ये सही है कि रुपया-पैसा आज समय की जरूरत है मगर यह सब कुछ नहीं है। जीवन में सुख व संतोष से बड़ा धन कोई नहीं है। जिस व्यक्ति के पास रुपया-पैसा तो बहुत है, मगर सुख व संतोष नहीं है उससे बड़ा गरीब दुनिया में कोई नहीं है। स्वामी विवेकानंद महाराज ने कहा कि दु:ख जब चरम सीमा पर होता है तो सुख ज्यादा दूर नहीं होता। समझो उस समय सुख आने ही वाला है। इसलिए दु:खों से न घबराएं। दु:ख व सुख का चक्र तो जीवन में चलता ही रहता है। आज अगर दु:ख है तो कल सुख भी आएगा। । प्रथम दिन के प्रवचन कार्यक्रम दौरान यजमान के तौर पर श्री सनातन धर्म प्रचारक पं. पूरन चंद्र जोशी के परिवार ने पूजन में हिस्सा लिया। इस मौके मंदिर प्रांगण सद्गुरु देव महाराज के जयकारों से गूंज उठा। बड़ी गिनती में श्रद्धालुओं ने पहुंचकर स्वामी दिव्यानंद जी एवं विवेकानंद जी महाराज जी से आशीर्वाद प्राप्त किया।(अमित अरोड़ा)

श्री मोहन जगदीश्वर दिव्य आश्रम में प्रवचन करते हुए स्वामी दिव्यानंद व विवेकानंद।

X
Click to listen..