Hindi News »Punjab »Abohar» अब घास मंडी चौक से माल गोदाम रोड तक कौंसिल ने की सड़क की मिनती

अब घास मंडी चौक से माल गोदाम रोड तक कौंसिल ने की सड़क की मिनती

शहर में चर्चा का विषय नगर कौंसिल द्वारा किए गए तबादले वाली जगह की विजिलेंस के पास चल रही पड़ताल के चलते जहां पहले...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 04, 2018, 03:10 AM IST

अब घास मंडी चौक से माल गोदाम रोड तक कौंसिल ने की सड़क की मिनती
शहर में चर्चा का विषय नगर कौंसिल द्वारा किए गए तबादले वाली जगह की विजिलेंस के पास चल रही पड़ताल के चलते जहां पहले माल विभाग, बीएंडआर इस जगह के आस-पास मिनती कर चुका है, वहीं मंगलवार को नगर कौंसिल ने घास मंडी चौक से लेकर जलालाबाद-माल गोदाम रोड चौक तक सड़क की मिनती की। उल्लेखनीय है कि नगर कौंसिल के उप प्रधान यादविंदर सिंह यादू द्वारा मुख्यमंत्री को दी गई शिकायत के बाद अब इस पूरे मामले की जांच विजिलेंस कर रही है। मंगलवार को नगर कौंसिल द्वारा घास मंडी चौक से लेकर सड़क की मिनती शुरू की गई। इस दौरान बनाए गए अलग अलग प्वाइंटस बनाकर की गई नपाई में पहले प्वाइंट नेहरू चौक में सड़क बैंक रोड की नुक्कड़ से अबोहर रोड की नुक्कड़ वाली दुकान तक करीब 60.4 फुट पाई गई। दूसरे प्वाइंट पर चबूतरे सहित 54.5 जबकि चबूतरे के अलावा 47.3 फुट, गली से सुरजीत बजाज की दुकान के बीच करीब साढ़े 49 फुट, गली की दूसरी नुक्कड़ से श्री बालाजी के बीच 50 फुट, गोयल आवास से ईट स्ट्रीट के बीच 40.4 फुट, बैंक की नुक्कड़ से भाटिया स्वीट के बीच में करीब 42 फुट, देवराज लोहेवाले से सीरवाली वालों की दुकान के बीच 43.8 फुट, नागपाल से विक्की स्वीट के बीच 55:3 फुट, चिमन लाल से भाटिया स्वीट वालों की दुकान के बीच करीब 55 फुट, कुमार टेलीकोम से गुंबर टेंट हाउस के बीच में करीब साढ़े 56 फुट सड़क पाई गई। माल विभाग के रिकार्ड मुताबिक घास मंडी से लेकर जलालाबाद रोड रजबाहे तक सड़क की चौड़ाई 57 फुट है लेकिन नेहरू चौक में दोनों साइडों पर अतिक्रमण के कारण सड़क की चौड़ाई 57 फुट से घटकर करीब आधी ही रह गई है। (कुलदीप रिणी)

मुक्तसर के घासमंडी चौक में सड़क की मिनती करते नगर कौंसिल के कर्मचारी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Abohar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×