अबोहर

  • Hindi News
  • Punjab News
  • Abohar
  • व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है सकारात्मक सोच : स्वामी दिव्यानंद
--Advertisement--

व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है सकारात्मक सोच : स्वामी दिव्यानंद

श्री मोहन जगदीश्वर आश्रम कनखल हरिद्वार के अनंत श्री विभूषित 1008 महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद गिरि महाराज ने कहा...

Dainik Bhaskar

May 10, 2018, 02:10 AM IST
व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है सकारात्मक सोच : स्वामी दिव्यानंद
श्री मोहन जगदीश्वर आश्रम कनखल हरिद्वार के अनंत श्री विभूषित 1008 महामंडलेश्वर स्वामी दिव्यानंद गिरि महाराज ने कहा कि मनुष्य को सदैव सकारात्मक सोच अपनानी चाहिए। कभी भी नकारात्मक नहीं सोचना चाहिए। जो मनुष्य सदैव सकारात्मक सोचता है वह हमेशा तरक्की करता है। स्वामी दिव्यानंद गिरि महाराज ने यह बात बुधवार को अबोहर रोड स्थित श्री मोहन जगदीश्वर दिव्य आश्रम में आयोजित सत्संग कार्यक्रम के दौरान प्रवचनों की अमृतवर्षा करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि सकारात्मक सोच व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है। जबकि नकारात्मक सोच व्यक्ति को असफलता का सामना कराती है। अगर मनुष्य किसी बात को लेकर नकारात्मक सोच रखता है तो उसका दिमाग भी नकारात्मक सोचने लगता है। ऐसे में दिमाग में उस काम के न होने को लेकर अनेक विचार आने लगते हैं कि यह काम क्यों नहीं हो सकता। ठीक इसी तरह अगर सोच सकारात्मक होगी तो दिमाग में उसी काम को आसानी से कर लेने के बारे में अनेक विचार तथा तरीके आने लगेंगे। स्वामी दिव्यानंद जी बोले कि अगर मनुष्य कोई कठिन कार्य करने की सोचता है तो उसका आत्मविश्वास बढ़ता और प्रबल होता है। व्यक्ति उस काम को करने का तरीका सोचने लगता है और उसमें सफलता प्राप्त कर लेता है। कठिन कार्य न करने और कोशिश भी न करने से डर और प्रबल होता है। इसलिए डर को भगाने के लिए उस काम को कर दीजिए। मनुष्य को कर्मठ बनना चाहिए। कर्म करते रहना चाहिए। काम को टालिए मत। कर्म करने से डर दूर होता है। स्वामी जी ने कहा कि आज मनुष्य को किसी न किसी प्रकार का डर सताए रहता है। मनुष्य को इन डर का हंसते हुए डटकर सामना करना चाहिए। मनुष्य खुद में आत्मविश्वास जगाए और डर को दूर भगाए। यही सबसे बढिय़ा तरीका है। हर काम मनुष्य को कभी न कभी जिंदगी में पहली बार करना पड़ता है। इसलिए उस काम को करने में न डरें बल्कि उसे करने की कोशिश करें। अगर वह काम आपने पहली बार आसानी से कर लिया तो स्वाभाविक है कि आप दूसरी, तीसरी बार भी उसे आसानी से कर लेंगे। डर खुद ही खत्म हो जाएगा। इस मौके बड़ी गिनती में श्रद्धालु उपस्थित थे। (अमित अरोड़ा)

प्रवचन करते हुए स्वामी दिव्यानंद व स्वामी महेशानंद।

X
व्यक्ति को सफलता की ओर ले जाती है सकारात्मक सोच : स्वामी दिव्यानंद
Click to listen..