• Home
  • Punjab News
  • Abohar
  • किसानों का आधुनिकता के साथ जुड़ना जरूरी : अजयवीर
--Advertisement--

किसानों का आधुनिकता के साथ जुड़ना जरूरी : अजयवीर

बागवान सुरेन्द्र चराया के फाजिल्का रोड स्थित प्रतिष्ठान बाला जी कोल्ड स्टोर में किसान विकास चैंबर पंजाब द्वारा...

Danik Bhaskar | Apr 24, 2018, 03:10 AM IST
बागवान सुरेन्द्र चराया के फाजिल्का रोड स्थित प्रतिष्ठान बाला जी कोल्ड स्टोर में किसान विकास चैंबर पंजाब द्वारा फसल विविधता विषय पर सेमिनार आयोजित किया गया। इस अवसर पर मुख्यातिथि के रूप में पंजाब स्टेट फार्मर कमिशन के चेयरमैन अजयवीर जाखड़, खेतीबाड़ी विभाग के सचिव एवं पंजाब एग्रो के एमडी विकास गर्ग, पंजाब बागवानी विभाग के डायरेक्टर पुष्पिन्द्र औलख, जिला यूथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संदीप जाखड़ मौजूद थे, जबकि विशेष मेहमानों में करणवीर सिद्धू, सिकंदर सिंह, रणवीर सिंह, क्षेत्रीय खोज केन्द्र के निर्देशक डॉ. पुरुषोत्तम अरोड़ा, डॉ. जगदीश अरोड़ा, बीएस टिक्का, जसविन्द्र सिंह माघा आदि उपस्थित रहे। अजयवीर जाखड़ ने कहा कि पंजाब सरकार किसानों को कर्जे के जाल से निकालने, किसानों को प्रफुल्लित करने एवं खेती को मुनाफे का कार्य बनाने के लिए कड़े कदम उठा रही है और इस संबंध में पिछले दिनों कई महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि कमिशन द्वारा किसानों के हित को देखते हुए अनेक योजनाएं भी शुरू की जा रही है। पंजाब सरकार और कमिशन प्रदेश में किसी को भी नकली बीज या नकली कीटनाशक दवाइयां नहीं बेचने देगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि किसानों को आधुनिकता के साथ जोड़े रखने के लिए बायो ऊर्जा, बायो मास व मशीनीकरण से संबंधित खेती पर पडऩे वाले प्रभावों के बारे में भी जागरूक करना होगा। इस अवसर पर एसडीएम पूनम सिंह, मार्किट कमेटी के पूर्व चेयरमैन अजीत सहारण, धनपत सियाग, विमल ठठई, राकेश कलानी, राजेश जाखड़, गुरबचन सिंह सरां, राजिन्द्र सिंह राजू जाखड़, प्रदीप छाबड़ा, किंगपाल सिंह दानेवालिया, नवदीप सिंह सरां, सुखविन्द्र सिंह जाखड़ आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम

किसान विकास चेंबर पंजाब ने फसल विविधता पर सेमिनार करवाया

बालाजी कोल्ड स्टोर में आयोजित कार्यक्रम में मंच पर मेहमान व शामिल किसान।

नहरी पानी चोरी करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा

अजयवीर जाखड़ ने स्पष्ट और सख्त शब्दों में कहा कि नहरी पानी चोरी करने वालों को भी बख्शा नहीं जाएगा। प्रदेश में 35 नई मंडियों की शुरूआत की जा रही है। इससे किसानों को उनकी फसलों एवं फलों की अच्छी कीमत मिलेगी। उन्होंने किसानों से अपील की कि वे गेहूं, धान, नरमे के अलावा वे बाग लगाने या सब्जियों की खेती करने ओर भी ध्यान दें ताकि उनकी आमदन में बढ़ौतरी हो सकें।