अमृतसर

--Advertisement--

कर्ज माफी की लिस्ट में 1000 ऐसे किसान जिनके पास ढाई एकड़ से ज्यादा जमीन

7778 किसानों और बठिंडा जिले के 12 हजार किसानों की शिनाख्त हुई है, जिन्हें कर्ज माफी की सूची में रखा गया है।

Dainik Bhaskar

Jan 03, 2018, 05:57 AM IST
1000 farmers who have land more than two and a half acres

चंडीगढ़/बठिंडा. शहर और मानसा जिलों में कर्ज माफी की सूची की वेरिफिकेशन के बाद करीब 1000 केस संिदग्ध पाए गए हैं। अप्लाई करने वालों में ढाई एकड़ से ज्यादा जमीन के मालिक भी शामिल है। इनमें से मानसा जिले के 568 और बठिंडा जिले के करीब 400 किसान हैं। मानसा जिले में पहले पड़ाव में ढाई एकड़ जमीन वाले 7778 किसानों और बठिंडा जिले के 12 हजार किसानों की शिनाख्त हुई है, जिन्हें कर्ज माफी की सूची में रखा गया है।

बता दें, सरकार ने उन्हीं किसानों का कर्ज माफ करने का फैसला किया है, जिनके पास ढाई एकड़ तक जमीन है। बठिंडा जिले के माल अफसर अमनदीप सिंह थिंद ने बताया, ढाई एकड़ जमीन वाले किसानों के केस वेरिफिकेशन के लिए भेजे गए हैं। दो-तीन दिनों में इनकी सही संख्या सामने जाएगी। सरकार की ओर से 7 जनवरी को मानसा जिले में राज्यस्तरीय समारोह कर कर्जे माफ करने की शुरुआत की जाएगी और उन्हें कर्ज माफी संबंधी सर्टिफिकेट बांटे जाएंगे। मानसा के डीसी धर्मपाल गुप्ता का कहना है कि सात हजार से ज्यादा केसों की वेरिफिकेशन हो चुकी है। संदिग्ध मामलों को फिलहाल कर्ज माफी की सूची में नहीं रखा गया है। इन मामलों की दोबारा जांच करवाई जाएगी।

सरकार की तरफ से किसानों का कर्ज माफ करने को लेकर संबंधित विभागों के साथ मिलकर लिस्ट तैयार की जा रही हैं। इसके लिए सभी प्रकार से तहसीलदार, पटवारियों से जांच करवाई जा रही है, ताकि सरकार की पॉलिसी के अनुसार ही किसानों को फायदा मिल सके। मुहिम के शुरुआती दौर में जिन किसानों का कर्ज माफ किया जाना हैं उनकी लिस्टों को तैयार किया गया है, जबकि बाकी की लिस्टों को बाद में तैयार किया जाएगा। -साक्षीसाहनी, एसडीएम, बठिंडा।

17 हजार किसान कर चुके हैं खुदकुशियां
कर्ज में दबे अभी तक करीब 17 हजार किसान जान दे चुके हैं। इन पर बैंकों आढ़तियों का 90 हजार करोड़ का कर्ज है। रुपए के करीब कर्ज है। वहीं कैप्टन सरकार के कार्यकाल में ही 350 किसान जान दे चुके हैं। तैयार लिस्टों के अनुसार मानसा में कुल 14 हजार किसानों पर 34 करोड़ तो बठिंडा में 37 हजार किसानों पर 137 करोड़ कर्ज है। जबकि सहकारी बैंकों से संबंधित किसानों के 3 हजार करोड़ के कर्ज हैं, जो सभी माफ होंगे।

समारोह में गुरदास मान आएंगे
बतायाजा रहा है कि समारोह में बड़े गायकों को बुलाने के लिए भी बात चल रही है। इनमें प्रसिद्ध पंजाबी गायक गुरदास मान का नाम भी शामिल है।

सर्टिफिकेट पर सीएम की फोटो
समारोह में किसानों को जो कर्ज माफी के सर्टिफिकेट बांटे जाएंगे। उनमें सीएम कैप्टन की फोटो होगी। साथ ही सीएम का किसानों के लिए संदेश भी होगा। मानसा जिले में 7 जनवरी को होने वाले कर्जमाफी समारोह में बठिंडा, मानसा, मुक्तसर, फरीदकोट और मोगा जिले के किसान हिस्सा लेंगे। 42 हजार किसानों के 170 करोड़ के कर्ज माफ किए जाएंगे। ग्रामीण सहकारी सेवाओं के कर्मचारियों को हिदायत दी जा रही है कि वे सिर्फ सरकार पक्षीय किसानों को ही समारोह में लेकर आएं। सहकारी सभाएं मुलाजिम यूनियन के डिविजनल प्रधान जसकरण सिंह कोटशमीर ने बताया, एसडीएम बठिंडा ने उन्हें साफ हिदायतें दी हैं कि सिर्फ उन किसानों को ही समारोह में लाया जाए, जो हल्ला करें।

X
1000 farmers who have land more than two and a half acres
Click to listen..