--Advertisement--

अमेरिका जाने के लिए लूटे 3 बैंक, लड़की के साथ चौथा लूटने गया तो ऐसे पकड़ा गया

शहर में 3 बैंकों से लूटे गए 21 लाख में से 4 लाख हुए बरामद।

Danik Bhaskar | Dec 20, 2017, 04:39 AM IST
आरोपी और उससे बरामद रूपए। आरोपी और उससे बरामद रूपए।

तरनतारन (अमृतसर). शहर में दो महीने में 3 बैंक लूटने वाला गिरोह चौथी बार भी लूट की फिराक में था। रेकी करने के लिए निकले गिरोह के दो सदस्य पुलिस ने गुप्त सूचना पर पकड़ा गया, जिनमें एक महिला भी है। दोनों से पहले लूटी गई रकम में से 4.5 लाख, 625 ग्राम हेरोइन, दो पिस्तौल और लूट के लिए इस्तेमाल की गई कार बरामद की गई है।

डकैती में नहीं था शामिल

पकड़े आरोपियों की पहचान सिकंदरपाल सिंह निवासी गडीविंड सरां और रणबीर कौर निवासी गुरु तेगबहादुर नगर तरनतारन के रूप में हुई है। गिरोह के अन्य मेंबर पंजाब सिंह, सरबजीत िसंह निवासी गुरु तेगबहादुर नगर तरनतारन, जोबनजीत सिंह उर्फ जोबन, रणजोध सिंह उर्फ योद्धा, जसवंत कौर निवासी हवेलियां की गिरफ्तारी के लिए रेड की जा रही है। पुलिस के मुताबिक पकड़े गए आरोपी के साथ-साथ बाकी अन्य आरोपियों पर भी पहले से कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। उसके मुताबिक वो इस डकैती में शामिल नहीं था, लेकिन पुलिस अनुसार बाहर जाने की चाह में ही उसने इस घटना को अंजाम दिया। इससे पहले भी उसके खिलाफ NDPS एक्ट के तहत मामला दर्ज था, और जमानत पर बाहर था।

गिरोह सात लोगों का, लूटे गए पैसे आपस में बांट लिए थे

ASP दर्शन सिंह मान ने बताया, पकड़े गए आरोपियों ने एक महीने पहले गांव घुरकविंड स्थित एक्सिस बैंक और तीन दिन पहले गांव नौरंगाबाद स्थित एक्सिस बैंक की शाखा में हथियारों के बल पर लूट की घटना को अंजाम देने की बात कबूल की है। 18 अक्टूबर को गांव जामाराए में पीएनबी में डकैती भी इसी गिरोह का काम है।

आगे ने बताया कि बैंको में डकैती के बाद ही एसपी इन्वेस्टिगेशन तिलक राज की अध्यक्षता में एसआईटी बनाई थी। टीम को लीड मिली थी कि सिकंदरपाल सिंह डकैती में इस्तेमाल की गई कार सीएच 03 एच 2065 में सवार हो तरनतारन में एक बार फिर से लूट के लिए रेकी कर रहा है। इसी सूचना के आधार पर खडूर साहिब के पास नाका लगाकर आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। एसएसपी ने बताया कि डकैती के बाद आरोपियों ने लूटी गई रकम आपस में बांट ली थी।

आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कि किस कारण की थी चोरी...