Hindi News »Punjab »Amritsar» 6 Feet Deep And 8 Feet Lang Kadhai In Anandpur Shaib

6 फीट गहरे कढ़ाहे में 75 हजार लोगों के लिए तैयार होती है प्रसादी, लगता है इतना सामान

सामान को 90 किलो भार के घोटने से घोटा जाता है।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 02, 2018, 01:31 AM IST

  • 6 फीट गहरे कढ़ाहे में 75 हजार लोगों के लिए तैयार होती है प्रसादी, लगता है इतना सामान
    +3और स्लाइड देखें
    इस कढ़ाहे में तैयार होती है प्रसादी।

    आनंदपुर साहिब. गुरुद्वारा शहीदी बाग में संगत ने आज प्रसाद ग्रहण किया। बता दें कि इस प्रसाद को 8 फीट लंबे और 6 फीट गहरे कड़ाहे में तैयार किया जाता है, उसमें एक बार में ही करीब 75 हजार संगत (लोगों) के लिए प्रसाद तैयार हो जाता है। प्रसाद बनाने के लिए करीब चार घंटे का समय लगता है।

    - दिन में करीब 3 बार प्रसाद तैयार किया जाता है।
    - पिछले 40 साल से 3 लोग मिलकर ही यहां पर सेवा करते हैं और प्रसादी तैयार करते हैं।

    इतना सामान डाला जाता है
    - 7 क्विंटल चीनी
    - 7 हजार लीटर पानी
    - 50 किलो खसखस
    - 50 लीटर दूध
    - 10 किलो लौंग-इलायची
    - 10 किलो बादाम गिरी
    - 10 किलो काली मिर्च।

    घोटने का भार
    - इस सारे सामान को 90 किलो भार के घोटने से घोटा जाता है।
    - इसके बाद तैयार होने पर होला महल्ला के पर्व पर नतमस्तक होने आई संगत को खुले हाथों से बांटा जाता है।

  • 6 फीट गहरे कढ़ाहे में 75 हजार लोगों के लिए तैयार होती है प्रसादी, लगता है इतना सामान
    +3और स्लाइड देखें
    कढ़ाही की लंबाई 8 फीट है।
  • 6 फीट गहरे कढ़ाहे में 75 हजार लोगों के लिए तैयार होती है प्रसादी, लगता है इतना सामान
    +3और स्लाइड देखें
    कढ़ाहे की गहराई 6 फीट है।
  • 6 फीट गहरे कढ़ाहे में 75 हजार लोगों के लिए तैयार होती है प्रसादी, लगता है इतना सामान
    +3और स्लाइड देखें
    कढ़ाहे में बनने वाली प्रसादी को 75 हजार लोग एक साथ ग्रहण कर सकते हैं।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Amritsar News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 6 Feet Deep And 8 Feet Lang Kadhai In Anandpur Shaib
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Amritsar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×