--Advertisement--

कभी बॉक्सर मोहम्मद अली से किया था मुकाबला, अब जी रहे ऐसे बदहाली की जिंदगी

35 साल पहले दिल्ली एशियाड में गोल्ड जीतने पर पंजाब सरकार ने एक लाख अवॉर्ड देने की घोषणा की थी जो आज तक नहीं मिला।

Dainik Bhaskar

Dec 13, 2017, 02:08 AM IST
मोहम्द अली फाइट करते हुए और बॉक्सर कौर सिंह इनसेट में। मोहम्द अली फाइट करते हुए और बॉक्सर कौर सिंह इनसेट में।

संगरूर. 22 दिन से मोहाली के अस्पताल में भर्ती पद्मश्री और अर्जुन अवार्डी बॉक्सर कौर िसंह को सोमवार रात छुट्‌टी मिल गई। 1980 में मोहम्मद अली के मुकाबले रिंग में उतरने वाले 70 साल के कौर िसंह कुछ सालों से दिल की बीमारी से जूझ रहे हैं। दो साल पहले उनके दिल में दो स्टंट भी डाले जा चुके हैं। विडंबना ये है कि देश को कई गोल्ड मैडल देने वाले कौर िसंह के पास इलाज के लिए पैसे नहीं हैं। आर्थिक हालत ठीक नहीं है। सरकारी नजरंदाजी से भी वह काफी निराश हैं। उन्हें इस बात का भी दुख है कि 35 साल पहले दिल्ली एशियाड में गोल्ड जीतने पर पंजाब सरकार ने एक लाख अवॉर्ड देने की घोषणा की थी जो आज तक नहीं मिला।

1980 में मोहम्मद अली के मुकाबले रिंग में उतरे थे

- कौर िसंह 1980 में दिल्ली के नेशनल स्टेडियम में प्रदर्शनी मैच में मोहम्मद अली के मुकाबले रिंग में उतरे थे। तब 50 हजार लोगों ने ये मैच देखाथा। कौर सिंह को 1982 में अर्जुन और 1983 में पद्मश्री अवार्ड मिला था।

- आर्मी में रहने के दौरान भी उन्हें 1988 में विशिष्ट सेवा मेडल से नवाजा गया था। ओलंपियन गेमों में भी विजेता रहे हैं।

- 1980 से 1983 तक एशियन गेम्स में पांच गोल्ड व एक सिल्वर मेडल जीत चुके हैं। नेशनल चैंपियनशिप में 1979 से 1983 तक लगातार पांच साल गोल्ड मेडल जीते हैं।

- पद्मश्री और अर्जुन अवार्ड लेने वाले कौर िसंह अकेले बॉक्सर हैं।

बेटा है फौज में

- कौर सिंह का एक बेटा फौज में है और दूसरा खेती करता है। पत्नी बलजीत कौर हाउस वाइफ हैं। बलजीत कौर का कहना है कि घर की माली हालत ठीक नहीं है। पति के इलाज पर काफी खर्च हो रहा है।

- इलाज में कोई कमी न रहे, इसलिए चार एकड़ जमीन का कुछ हिस्सा बेचने की सोच रहे हैं।

- कौर सिंह कहते हैं, हमारी सरकारें खिलाड़ियों की केयर में फेल साबित हो रही हैं। जिस कारण टेलेंटेड युवा खेलों की तरफ रुख नहीं कर रहे हैं।

- सरकारों को अपने खिलाड़ियों के साथ हर हालात में खड़ा रहना चाहिए ताकि युवाओं को खेलों की ओर प्रोत्साहित किया जा सके।

केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने पांच लाख मंजूर किए
ट्वीट... केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने ट्वीट किया है कि उन्हें कौर सिंह की हालत के बारे में पता चला है। ऐसे में उन्होंने लिखा है कि सर, आपने इंडिया का सिर ऊंचा किया है, आज इंडिया आपका सिर झुकने नहीं देगा। ऐसे में उन्होंने नेशनल वेलफेयर फंड फॉर स्पोर्ट्स पर्सन कोटे से कौर सिंह के लिए 5 लाख रुपए की मंजूरी दी है।

बॉक्सर कौर सिंह का कर्ज लेकर इलाज चल रहा है। बॉक्सर कौर सिंह का कर्ज लेकर इलाज चल रहा है।
बॉक्सर कौर सिंह अमिताभ के साथ। बॉक्सर कौर सिंह अमिताभ के साथ।
केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने पांच लाख मंजूर किए। केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने पांच लाख मंजूर किए।
बॉक्सर कौर सिंह अर्जुन अवार्ड के साथ। बॉक्सर कौर सिंह अर्जुन अवार्ड के साथ।
पद्मश्री और अर्जुन अवार्ड लेने वाले कौर िसंह अकेले बॉक्सर हैं। पद्मश्री और अर्जुन अवार्ड लेने वाले कौर िसंह अकेले बॉक्सर हैं।
बॉक्सर मोहम्मद अली। बॉक्सर मोहम्मद अली।
बॉक्सर कौर सिंह बॉक्सर कौर सिंह
1980 से 1983 तक एशियन गेम्स में पांच गोल्ड व एक सिल्वर मेडल जीत चुके हैं। 1980 से 1983 तक एशियन गेम्स में पांच गोल्ड व एक सिल्वर मेडल जीत चुके हैं।
X
मोहम्द अली फाइट करते हुए और बॉक्सर कौर सिंह इनसेट में।मोहम्द अली फाइट करते हुए और बॉक्सर कौर सिंह इनसेट में।
बॉक्सर कौर सिंह का कर्ज लेकर इलाज चल रहा है।बॉक्सर कौर सिंह का कर्ज लेकर इलाज चल रहा है।
बॉक्सर कौर सिंह अमिताभ के साथ।बॉक्सर कौर सिंह अमिताभ के साथ।
केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने पांच लाख मंजूर किए।केंद्रीय राज्य खेल मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने पांच लाख मंजूर किए।
बॉक्सर कौर सिंह अर्जुन अवार्ड के साथ।बॉक्सर कौर सिंह अर्जुन अवार्ड के साथ।
पद्मश्री और अर्जुन अवार्ड लेने वाले कौर िसंह अकेले बॉक्सर हैं।पद्मश्री और अर्जुन अवार्ड लेने वाले कौर िसंह अकेले बॉक्सर हैं।
बॉक्सर मोहम्मद अली।बॉक्सर मोहम्मद अली।
बॉक्सर कौर सिंहबॉक्सर कौर सिंह
1980 से 1983 तक एशियन गेम्स में पांच गोल्ड व एक सिल्वर मेडल जीत चुके हैं।1980 से 1983 तक एशियन गेम्स में पांच गोल्ड व एक सिल्वर मेडल जीत चुके हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..